झारखंड में RJD को मजबूत करने में जुटे तेजस्वी यादव, बोले: खून-पसीने से पार्टी को सींचने वालों को मिलेगा सम्मान
X

झारखंड में RJD को मजबूत करने में जुटे तेजस्वी यादव, बोले: खून-पसीने से पार्टी को सींचने वालों को मिलेगा सम्मान

रांची में RJD के कार्यकर्ता सम्मेलन में तेजस्वी यादव ने हिस्सा लिया और कार्यकर्ताओं को पार्टी को मजबूत करने का संकल्प दिलाया.

झारखंड में RJD को मजबूत करने में जुटे तेजस्वी यादव, बोले: खून-पसीने से पार्टी को सींचने वालों को मिलेगा सम्मान

Ranchi: बिहार की राजनीति में सक्रिय RJD नेता तेजस्वी यादव, झारखंड में भी संगठन को मजबूती देने की कोशिश में जुटे हैं. अपने दो दिन के झारखंड दौरे के आखिरी दिन उन्होंने रांची में RJD के कार्यकर्ता सम्मेलन में हिस्सा लिया. इस दौरान अपने संबोधन में उन्होंने जहां कार्यकर्ताओं से झारखंड में पार्टी को मजबूत करने में सहयोग देने की अपील की. वहीं यह भी साफ कर दिया की पार्टी में वही आगे बढ़ेगा, जो काम करेगा.

'पार्टी का ध्यान बिहार के साथ झारखंड पर भी'
राजधानी रांची के कार्निवल हॉल में RJD के कार्यकर्ता सम्मेलन में तेजस्वी यादव ने भी शिरकत की. झारखंड में पार्टी को मजबूत करने की कवायद में जुटे तेजस्वी यादव ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए साफ कर दिया की उनका ध्यान बिहार के साथ झारखंड पर ही है, और राज्य में संगठन की मजबूती को लेकर वह बेहद गंभीर है.

'हर विधानसभा क्षेत्र में दो-दो दिन रुकेंगे'
तेजस्वी यादव ने कहा की झारखंड में भी हम पार्टी का पूरा ध्यान रखेंगे. झारखंड हमारा पुराना घर है, जब तक पुराना बिहार विकसित नहीं होगा तब तक देश विकसित नहीं होगा. तेजस्वी ने कहा की यहां हमारा जनाधार है और पार्टी को यहां हर हाल में मजबूत करना है. इसके साथ ही उन्होंने कहा की झारखंड में संगठन की मजबूती के लिए वो हर विधानसभा क्षेत्र में दो-दो दिन रुकेंगे और पार्टी की विचारधारा को मजबूत करेंगे. साथ ही पुराने लोगों को भी फिर से जोड़ने का काम करेंगे.

'जो काम करेगा, उसे ही पार्टी में पद मिलेगा' 
कार्यक्रम में बोलते हुए तेजस्वी यादव ने पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं को पद से ज्यादा काम को तवज्जो देने का संदेश दिया और साफ किया की पार्टी उसी को आगे बढ़ाएगी, जो काम करके दिखाएगा. तेजस्वी यादव ने कहा की वह गणेश परिक्रमा करने वाले लोगों से खुश नहीं होंगे, बल्कि जनता की परिक्रमा करने वाले लोग ही उन्हें खुशी दे सकेंगे. तेजस्वी ने कहा की कुछ लोग काम नहीं करते, लेकिन पद की इच्छा रखते हैं, लेकिन अब जो काम करेगा, पार्टी को सींचेगा, उसे ही पार्टी में पद मिलेगा और उसे ही आगे बढ़ाया जाएगा.

ये भी पढ़ें: रिकार्ड टीकाकरण पर तेजस्वी यादव ने उठाए सवाल, BJP ने दिमागी कसरत करने की दी सलाह

'झारखंड के साथ सौतेला व्यवहार' 
तेजस्वी यादव ने इस दौरान केंद्र सरकार को भी घेरा और झारखंड के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया. तेजस्वी यादव ने कहा की केंद्र सरकार, झारखंड के साथ भी वैसा ही व्यवहार करती है, जैसा पक्षपात जैसा बिहार में हमारी सरकार के साथ होता था. उन्होंने कहा की देश की संपत्ति बेची जा रही है. ना अच्छे दिन आए, ना रोजगार है, ना मंहगाई कम हुई और ना किसानों की समस्या सुलझी. किसी भी जात, धर्म, वर्ग के लोग केंद्र की NDA सरकार से खुश नहीं है.

'अपनी विचारधारा से गोडसे की विचारधारा को हराएंगे'
झारखंड विधानसभा के मॉनसून सत्र के दौरान नमाज कक्ष के मसले पर हुए सियासी बवाल पर भी तेजस्वी यादव ने अपना रुख साफ किया और बीजेपी को घेरा. तेजस्वी यादव ने कहा की हमारी विधारधारा धर्मनिरपेक्ष है, और जहां भी विचारधारा की लड़ाई होगी, हम अपनी विचारधारा से गोडसे की विचारधारा को हराएंगे. उन्होंने कहा की झारखंड विधानसभा का छोटा सत्र था, और बीजेपी धर्म की बात करने ली. बीजेपी के लिए मन्दिर-मस्जिद, पाकिस्तान, तालिबान, लव जेहाद ही मुद्दा है. 

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात
इससे पहले तेजस्वी यादव ने रांची में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से भी मुलाकात की. तेजस्वी मुख्यमंत्री से मिलने उनके आवास पहुंचे, साथ में राज्य के श्रममंत्री सत्यानंद भोक्ता भी मौजूद रहे...सत्यानंद भोक्ता झारखंड में RJD कोटे से विधायक हैं. दोनों नेताओं के बीच यह महत्वपूर्ण मुलाकात काफी देर तक चली.

(इनपुट: कुमार चंदन)

Trending news