UPSC Result 2020: सिविल सेवा की परीक्षा में दिखा झारखंड का जलवा, कोयलांचल से निकले 5 'हीरे'

यूपीएससी में चौथा स्थान पाने वाले यश जलुका के परिवार में इस समय खुशी का माहौल है. उनके परिजनों ने कहा कि फिलहाल यश दिल्ली में है लेकिन जल्द ही घर आएगा जबकि उनके माता-पिता अभी उड़ीसा के बड़बिल में काम के सिलसिले में हैं.

UPSC Result 2020: सिविल सेवा की परीक्षा में दिखा झारखंड का जलवा, कोयलांचल से निकले 5 'हीरे'
धनबाद के 5 छात्रों ने क्लीयर की यूपीएससी की परीक्षा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Dhanbad: UPSC Result 2020 यूपीएससी ने प्रतिष्ठित सिविल सर्विसेज परीक्षा 2020 (Civil Service Result 2020) के परिणाम शुक्रवार को घोषित किए, जिसमें पूरे देश में 761 उम्मीदवार सफल हुए. देश की सर्वेश्रेष्ठ और सबसे कठिन परीक्षा में बिहार-झारखंड के छात्रों का एक बार फिर जलवा देखने को मिला है. बिहार के शुभम कुमार ने जहां पूरे देश में टॉप किया वहीं, झारखंड के टॉपर यस जलुका रहे. कुल मिलाकर झारखंड के 15 छात्रों ने यूपीएससी में परचम लहराया है, जिसमें से धनबाद कोयलांचल के 5 छात्र शामिल है.

यश जलूका का रहा चौथा स्थान
दरअसल, धनबाद कोयलांचल सिर्फ काला ही रहे और कोयले की कालिख में गैंगस्टर ही नहीं है, यहां सफेद हीरे भी हैं, जरूरत सिर्फ उनकी प्रतिभा को तराशने की है. तभी तो धनबाद कोयलांचल के 5 छात्रों ने यूपीएससी में सफल होकर धनबाद की चमक को बढ़ाया है. धनबाद के झरिया निवासी यश जलुका का पूरे देश में चौथा स्थान है और झारखंड में पहला स्थान है. 

ये भी पढ़ें-UPSC में जुमई के प्रवीण ने हासिल की 7वीं रैंक, कहा-IAS बनने के बाद सबसे पहले करूंगा ये काम

UPSC के नतीजों में दिखा धनबाद का जलवा
वहीं, डॉक्टर अपाला मिश्रा जो धनबाद हाउसिंग कॉलोनी की निवासी हैं, उन्होंने नौवां स्थान प्राप्त किया है. बाघमारा के शुभम खंडेलवाल की 133वीं रैंक, मुनिडीह के सौरव सिंह का 411 वां स्थान और कुमारधूबी के आकाश शर्मा ने 524वां स्थान प्राप्त किया है.

यश की सफलता पर परिवार में खुशी का माहौल
यूपीएससी में चौथा स्थान पाने वाले यस खंडेलवाल के परिवार में इस समय खुशी का माहौल है. उनके परिजनों ने कहा कि फिलहाल यस दिल्ली में है लेकिन जल्द ही घर आएगा जबकि उनके माता-पिता अभी उड़ीसा के बड़बिल में काम के सिलसिले में हैं. इनका झरिया के लक्ष्मनिया मोड़ में राशन का दुकान है जबकि पोदार पाडा में घर है. यश का जॉइंट फैमिली में रहते हैं और इनके बड़े पापा, भाई और भाभी सभी यश की सफलता से काफी खुश हैं.

ये भी पढ़ें-UPSC 2020 का अंतिम परिणाम घोषित, बिहार के शुभम कुमार ने किया टॉप

प्रथम प्रयास में क्लीयर किया UPSC
इनका कहना है कि हम लोग मिडिल फैमिली से हैं. लेकिन यश शुरू से ही पढ़ने में काफी तेज था. डिगवाडीह डीनोबली में आठवीं तक पढ़ाई की और इसके बाद बोकारो से इंटरमीडिएट करने के बाद दिल्ली चला गया. वहीं पढ़ाई और यूपीएससी (UPSC Result 2020) की तैयारी कर रहा था और प्रथम परीक्षा में ही इतनी बड़ी सफलता हासिल की है, जिससे पूरे परिवार में काफी खुशी हैं.

(इनपुट-नीतेश)