पटना: मजबूत महागठबंधन के पक्ष में पप्पू यादव, 3 सीटों पर लड़ना चाहते हैं लोकसभा चुनाव

आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर पप्पू यादव ने कहा कि हम बिहार में मजबूत महागठबंधन की राजनीति के पक्ष में हैं.

पटना: मजबूत महागठबंधन के पक्ष में पप्पू यादव, 3 सीटों पर लड़ना चाहते हैं लोकसभा चुनाव
पप्पू यादव ने कहा कि बिहार में अपराध का ग्राफ चार गुणा बढ़ गया है. (फाइल फोटो)

पटना: जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने यहां सोमवार को कहा कि बिहार में अपराध का ग्राफ चार गुणा बढ़ गया है.  आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर पप्पू यादव ने कहा कि हम बिहार में मजबूत महागठबंधन की राजनीति के पक्ष में हैं. पटना में एक संवाददाता सम्मेलन में पप्पू यादव ने कहा कि महागठबंधन को लेकर कांग्रेस के शीर्ष नेताओं से बातचीत की है और अपनी भावनाओं से अवगत करा दिया है. उन्होंने कहा, "हमारी पार्टी लोकसभा चुनाव में बिहार की तीन सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है, अब फैसला कांग्रेस को करना है. "

आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद को 'आदरणीय' बताते हुए उन्होंने कहा कि सांप्रदायिकता की चुनौती से मुकाबला करना लालू प्रसाद जानते हैं और नफरत फैलाने वालों को वे रोकना भी जानते हैं.  उन्होंने कहा कि महागठबंधन को लेकर बड़े नेता व बड़ी पार्टी को फैसला करना चाहिए और अनुभवी नेताओं को सम्मान मिलना चाहिए. 

सांसद पप्पू यादव ने बिहार में सत्ता और विपक्ष पर अपराधियों को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुए कहा कि दानों अपराधियों का इस्तेमाल करते हैं.  उन्होंने राजनीति में अपराधीकरण को लोकतंत्र और बिहार की करोड़ों जनता के लिए ठीक नहीं बताते हुए कहा कि इसमें लोगों को नुकसान होता है.  

उन्होंने राज्य सरकार पर शराबबंदी के नाम पर पुलिस बल को उलझाए रखने और पैसे वसूली का आरोप लगाया और सवालिया लहजे में कहा कि नीतीश कुमार ने जब पुलिस को शराबबंदी, शराब पकड़ने, पैसा वसूलने और उसे नेता तक पहुंचाने में लगा रखा है, तो वो अपराधियों पर लगाम कैसे लगा पाएंगे? 

उन्होंने कहा कि सरकार ने अपराध के जो आंकड़े जारी किए हैं, वे एकदम निराधार हैं.  अपराधी व नेताओं के साथ व्यावसायिक संगठनों की मिलीभगत है और यही कारण है कि पटना के चर्चित व्यवसायी गुंजन खेमका की हत्या के खिलाफ व्यावसायिक संगठन मौन हैं.  सांसद ने कहा कि संगीन अपराध के मामलों में स्पीडी ट्रायल करा कर फांसी की सजा दी जानी चाहिए. (इनपुट IANS से भी)