कृषि सचिव ने मुख्यमंत्री पशुधन योजना का शत प्रतिशत क्रियान्वयन के दिए निर्देश, कोताही बरतने वालों पर होगी कार्रवाई

Jharkhand Samachar: कृषि सचिव ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे दुधारू पशुओं के कृत्रिम गर्भाधान का लक्ष्य 31 जुलाई तक पूरा कर भारत सरकार के पोर्टल पर अपलोड करें.

कृषि सचिव ने मुख्यमंत्री पशुधन योजना का शत प्रतिशत क्रियान्वयन के दिए निर्देश, कोताही बरतने वालों पर होगी कार्रवाई
कृषि सचिव ने मुख्यमंत्री पशुधन योजना का शत प्रतिशत क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के दिए निर्देश.

Ranchi: झारखंड के कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता सचिव अबु वक्कर सिद्दिकी ने राज्य के सभी जिला पशुपालन पदाधिकारी एवं जिला गव्य विकास पदाधिकारियों को मुख्यमंत्री पशुधन योजना का शत प्रतिशत क्रियान्वयन का निर्देश दिया है.

सिद्दिकी ने बुधवार को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से विभाग द्वारा क्रियान्वित योजनाओं की समीक्षा के दौरान यह निर्देश दिए. 

उन्होंने इस कार्य में कोताही बरतने वाले पदाधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा है. वहीं, 30 जून को हूल दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री पशुधन योजना के तहत लाभार्थियों के बीच वितरण किए जाने वाले उपादानों का वितरण स्थानीय जनप्रतिनिधि की उपस्थिति में करने व पूरे कार्यक्रम की वीडियोग्राफी कराने को कहा.

ये भी पढ़ें- झारखंड के CM हेमंत सोरेन को गाली-गलौज के साथ मिली धमकी, गोंदा थाना में केस दर्ज

कृषि सचिव ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे दुधारू पशुओं के कृत्रिम गर्भाधान का लक्ष्य 31 जुलाई तक पूरा कर भारत सरकार के पोर्टल पर अपलोड करें. वहीं, उन्होंने वर्तमान में कार्यरत 1500 कृत्रिम गर्भाधान केंद्रों के अतिरिक्त 3000 नए केंद्रों को जल्द संचालित करने के भी निर्देश दिए. 

उन्होंने इसके अलावा गो मुक्तिधाम की स्थापना हेतु निदेशालय स्तर से तकनीकी समिति का गठन करते हुए विस्तृत प्रस्ताव तैयार कर सभी जिला स्तरीय पदाधिकारियों को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया.

(इनपुट- भाषा)