प्रभाकर साईल ने पैसे लेकर समीर वानखेड़े पर लगाए आरोप? स्टिंग ऑपरेशन में सामने आई ये बात
X

प्रभाकर साईल ने पैसे लेकर समीर वानखेड़े पर लगाए आरोप? स्टिंग ऑपरेशन में सामने आई ये बात

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाने वाले गवाह प्रभाकर साईल (Prabhakar Sail) को लेकर एक स्टिंग ऑपरेशन सामने आया है, जिसमें बताया जा रहा है कि साईल ने पैसे के लिए यह किया है.

प्रभाकर साईल ने पैसे लेकर समीर वानखेड़े पर लगाए आरोप? स्टिंग ऑपरेशन में सामने आई ये बात

मुंबई: आर्यन खान ड्रग्स केस (Aryan Khan Drugs Case) में लगातार नए मोड़ आते जा रहे हैं. केस में गवाह प्रभाकर साईल (Prabhakar Sail) द्वारा नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) पर 8 करोड़ रुपये की वसूली के आरोप लगाए हैं. अब इस मामले में एक स्टिंग ऑपरेशन सामने आया है, जिसमें बताया जा रहा है कि प्रभाकर साईल ने पैसे के लिए यह किया है. हालांकि Zee News स्टिंग की पुष्टि नहीं करता है.

बीजेपी नेता ने शेयर किया स्टिंग ऑपरेशन का वीडियो

स्टिंग ऑपरेशन का वीडियो बीजेपी नेता मोहित कंबोज (Mohit Kamboj) ने ट्विटर पर शेयर किया है और लिखा है, 'नोटरी रामजी गुप्ता (Ramji Gupta) का स्टिंग ऑपरेशन. रामजी ने कहा कि प्रभाकर साईल (Prabhakar Sail) ने किरण गोसावी से पैसे के लिए ये सब किया है. वो साफ कह रहे हैं मियां नवाब और मनोज इसके पीछे हैं.'

ये भी पढ़ें- समीर वानखेड़े पर लगे भ्रष्टाचार के आरोप तो बचाव में उतरीं उनकी पत्नी, बताई पूरी सच्चाई

स्टिंग ऑपरेशन में क्या है?

मोहित कंबोज (Mohit Kamboj) ने दावा किया है कि यह स्टिंग नोटरी रामजी गुप्ता (Ramji Gupta) है, जिसमें वह कह रहा है कि किरण गोसावी से प्रभाकर साइल ने पैसे मांगे थे, क्योंकि उसके यहां बॉडीगार्ड था और उसको लेकर यह सब कुछ हुआ है.

एनसीपी नेता नवाब मलिक का नया दावा

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी नेता नवाब मलिक (NCP Leader Nawab Malik) ने ट्वीट कर एक नया लेटर शेयर किया है और दावा किया है कि एनसीबी के एक अधिकारी ने उन्हें यह चिट्ठी दी है. लेटर को शेयर करते हुए नवाब मलिक ने कहा कि एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में मैं यह पत्र डीजी नारकोटिक्स को फॉरवर्ड कर रहा हूं और उनसे अनुरोध करता हूं कि इस पत्र को समीर वानखेड़े पर की जा रही जांच में शामिल किया जाए.

नवाब मलिक ने पहले लगाए थे धर्म बदलने के आरोप

इससे पहले एनसीपी नेता नवाब मलिक (Nawab Malik) ने समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) पर फर्जी कास्ट सर्टिफिकेट दिखाकर आईआरएस अधिकारी बनने का आरोप लगाया था. उन्होंने दावा किया कि एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े मुस्लिम हैं और उनका असली नाम समीर दाऊद वानखेड़े है. नवाब मलिक ने बर्थ सर्टिफिकेट की तरह दिखने वाला एक डॉक्यूमेंट भी शेयर किया और लिखा, 'समीर दाऊद वानखेड़े का फ्रॉड यहां से शुरू हुआ.'

समीर वानखेड़े ने भी दिया नवाब मलिक को जवाब

इससे पहले एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) ने नवाब मलिक के आरोपों पर जवाब दिया था और सोमवार को प्रेस रिलीज जारी कर कहा कि यह मेरे संज्ञान में आया है कि महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मलिक ने आज अपने ट्विटर हैंडल पर मुझसे संबंधित कुछ डॉक्यूमेंट शेयर किए और लिखा, 'समीर दाऊद वानखेड़े का फ्रॉड यहां से शुरू हुआ.'

उन्होंने आगे कहा, 'में यह कहना चाहता हूं कि मेरे पिता दयानदेव कचरूजी वानखेड़े (Dnyandev Kachruji Wankhede) 30.06.2007 को राज्य आबकारी विभाग, पुणे के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक के पद से रिटायर हुए थे. मेरे पिता एक हिंदू हैं और मेरी मां स्वर्गीय जहीदा एक मुस्लिम थीं. मैं धर्मनिरपेक्ष परिवार से ताल्लुक रखता हूं और मुझे अपनी विरासत पर गर्व है. मैंने डॉ शबाना कुरैशी 2006 में स्पेशल मैरेज एक्ट 1954 के तहत शादी की. हम दोनों ने साल 2016 में सिविल कोर्ट के माध्यम से तलाक ले लिया और साल 2017 के अंत में मैंने क्रांति दीनानाथ रेडकर से शादी की.'

समीर वानखेड़े ने कहा, 'ट्विटर पर मेरे निजी दस्तावेजों का प्रकाशन मानहानि है और मेरी पारिवारिक गोपनीयता पर अनावश्यक आक्रमण है. इसका उद्देश्य मुझे, मेरे परिवार, मेरे पिता और मेरी दिवंगत मां को बदनाम करना है. पिछले कुछ दिनों में माननीय मंत्री जी के कृत्यों ने मुझे और मेरे परिवार को मानसिक और भावनात्मक दबाव डाला है. मैं माननीय मंत्री द्वारा बिना किसी औचित्य के व्यक्तिगत, मानहानि कारक और निंदनीय हमलों की प्रकृति से आहत हूं.'
(इनपुट- राकेश त्रिवेदी)

लाइव टीवी

Trending news