Madrasa convert Model School: सरकार का बोल्ड फैसला, ढहाए गए मदरसे पर बनेगा मॉडल स्कूल; देश में पहली बार इस राज्य में होने जा रहा एक्शन
topStories1hindi1472164

Madrasa convert Model School: सरकार का बोल्ड फैसला, ढहाए गए मदरसे पर बनेगा मॉडल स्कूल; देश में पहली बार इस राज्य में होने जा रहा एक्शन

Madrasa Latest News: अलकायदा लिंक से जुड़ने के आरोप में ध्वस्त किए गए एक मदरसे की जमीन पर अब मॉडल स्कूल का निर्माण किया जाएगा, जिसमें हर धर्म के बच्चे आधुनिक शिक्षा हासिल कर सकेंगे. यह फैसला एक बड़े राज्य की सरकार ने लिया है. 

Madrasa convert Model School: सरकार का बोल्ड फैसला, ढहाए गए मदरसे पर बनेगा मॉडल स्कूल; देश में पहली बार इस राज्य में होने जा रहा एक्शन

Madrasa will become model school in Assam: असम (Assam) सरकार ने अलकायदा लिंक वाले मदरसे की जगह पर मॉडल स्कूल बनाने का फैसला किया है. मरकाजुल मां आरिफ करियाना (Markazul Ma-Arif Quariayana Madrasa) के नाम वाला यह मदरसा राज्य के बोगाईगांव जिले के कबैतारी गांव में बना था. जांच में आतंकी संगठनों से लिंक मिलने पर अगस्त में बुल्डोजर चलाकर हिमंता बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) सरकार ने उसे ध्वस्त करा दिया था. इसके साथ ही मदरसे के इमाम समेत 37 लोगों की गिरफ्तारियां भी की गई थीं.

ढहाए गए मदरसे की जगह बनेगा मॉडल स्कूल

अब सीएम हिमंता बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने तोड़े गए उस मदरसे मरकाजुल मां आरिफ करियाना (Markazul Ma-Arif Quariayana Madrasa) के बारे में अहम घोषणा की है. सीएम हिमंता ने सोमवार को कहा कि तोड़े गए मदरसे की जगह पर मॉडल स्कूल बनाया जाएगा, जिसमें सभी धर्मों के बच्चे आधुनिक शिक्षा हासिल करेंगे. इस स्कूल का संचालन सरकार करेगी और इसमें पढ़ाई के साथ खेलकूद की शिक्षा भी दी जाएगी. उन्होंने कहा कि देश में ऐसा प्रयोग पहली बार होने जा रहा है, जहां पर मदरसे को तोड़कर स्कूल बनाया जा रहा हो.

'हिंदू बच्चे पढ़-लिखकर करते हैं तरक्की'

मुख्यमंत्री हिमंता ने हिंदुओं के ऊपर किए गए आपत्तिजनक कमेंट को लेकर भी AIUDF के अध्यक्ष मौलाना बदरुद्दीन अजमल (Badruddin Ajmal) को जमकर निशाने पर लिया. बोगाईगांव में सोमवार को एक जनसभा में सीएम ने कहा, 'हिंदुओ के कम बच्चे होते हैं क्योंकि हिंदू डॉक्टर इंजीनियर बनते हैं. लेकिन मुसलमान परिवार में इतने बच्चे होते हैं कि सही से उन्हें खाना भी नसीब नहीं होता है.'

'बच्चा जनने की फैक्ट्री न बनने दें मुस्लिम महिलाएं'

उन्होंने मुसलमान महिलाओं से अपील की कि वे अपने पेट को बच्चा बनाने की फैक्ट्री न बनने दें. महंगाई के इस जमाने में अपना परिवार छोटा रखकर बच्चों को डॉक्टर, इंजिनियर, प्रोफेसर बनाने में मदद करें न कि उन्हें समाज को नष्ट करने वाला इमाम बनाएं. सीएम ने सांसद बदरुद्दीन अजमल को चुनौती दी कि क्या वह मुसलमान गरीब बच्चों की खर्च उठाने के लिए तैयार है. अगर हैं तो हिमंता बिस्वा सरमा कुछ नहीं कहेंगे.

असम में इस साल ढहाए जा चुके हैं 3 मदरसे

बताते चलें कि सरकारी जमीनों पर अतिक्रमण और आतंकी संगठनों से जुड़ाव के आरोप में असम में इस साल अब तक 3 मदरसे बुल्डोजर से ढहाए जा चुके हैं. इनमें बोगाईगांव वाला मदरसा भी शामिल था. मदरसे को ढहाने से पहले उसमें काम करने वाले इमाम और उस्तादों समेत 37 लोगों की गिरफ्तारियां की गईं. इसके बाद उस मदरसे को बच्चों के लिए असुरक्षित बताकर ध्वस्त कर दिया गया था.

(पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की ज़रूरत नहीं)

Trending news