close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कश्मीर मध्यस्थता: झूठे बयान पर PM मोदी के धुर विरोधी शशि थरूर ने लगा दी डोनाल्ड ट्रंप की क्लास

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran khan) से मुलाकात के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra modi) को लेकर झूठा बयान दिया है. इसके बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर (Sashi tharoor) ने पीएम मोदी का बचाव किया है.

कश्मीर मध्यस्थता: झूठे बयान पर PM मोदी के धुर विरोधी शशि थरूर ने लगा दी डोनाल्ड ट्रंप की क्लास
डोनाल्ड ट्रंप के बयान पर पीएम मोदी के पक्ष में आया शशि थरूर का बयान.

नई दिल्ली: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran khan) से मुलाकात के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra modi) को लेकर झूठा बयान दिया है. इसके बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर (Sashi tharoor) ने पीएम मोदी का बचाव किया है. थरूर ने डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) की क्लास लगाते हुए कहा है कि ट्रंप सरासर झूठ बोल रहे हैं. पीएम मोदी कभी भी कश्मीर मसले में किसी तीसरे की मध्यस्थता की बात कह ही नहीं सकते हैं. थरूर ने कहा है कि बातचीत के दौरान पीएम मोदी की कही गई बातों को ट्रंप ठीक से समझ नहीं पाए होंगे, इसलिए वह इस तरह की बातें कर रहे हैं.

भारत के विदेश मंत्रालय ने भी ट्रंप को झूठा ठहराया
इससे पहले भारत के विदेश मंत्रालय भी अमेरिकी राष्ट्रपति को झूठा ठहरा चुका है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्विटर पर लिखा, 'हमने राष्ट्रपति ट्रंप के बयान को प्रेस में देखा कि वह कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता करने को तैयार हैं, अगर भारत और पाकिस्तान इसकी मांग करें. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra modi) ने ऐसी कोई मांग राष्ट्रपति ट्रंप से नहीं की है.'

लाइव टीवी देखें-:

उन्होंने आगे लिखा है कि कश्मीर मसले पर भारत का स्टैंड साफ है. कश्मीर दो देशों के बीच का मुद्दा है, ऐसे में इस पर द्विपक्षीय वार्ता ही हो सकती है. पाकिस्तान के साथ किसी भी बातचीत की शर्त ये है कि सीमा पार से आतंकवाद बंद हो.

ट्रंप ने क्या कहा?
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran khan) से बातचीत के दौरान प्रेस को संबोधित करते हुए डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) ने कहा, 'दो सप्ताह पहले मेरी पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra modi) से भेंट हुई थी और उन्होंने मुझसे पूछा था कि क्या आप मथ्यस्थ बनना चाहेंगे? मैंने पूछा कहां? उन्होंने कहा, कश्मीर में.'

उधर, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran khan) ने भी डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) से कश्मीर मसले पर मध्यस्थता की भूमिका निभाने का आग्रह किया है. इसपर ट्रंप ने कहा, 'अगर मैं मदद कर सकता हूं तो मुझे मध्यस्थ बन कर खुशी होगी.'

ट्रंप का यह बयान आते ही भारतीय विदेश मंत्रालय ने इसे झूठा बता दिया. दिलचस्प बात यह है कि बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra modi) पर हमेशा आक्रामक रहने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर (Sashi tharoor) ने भी ट्रंप को झूठा ठहराया है. उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि पीएम मोदी कश्मीर मसले पर किसी तीसरे के मध्यस्थ बनने की बात कतई नहीं कह सकते हैं. यहां आपको बता दें कि अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार के दौर में शशि थरूर को संयुक्त राष्ट्र के महासचिव पद के लिए नॉमिनेट किया गया था. हालांकि थरूर यह चुनाव हार गए थे.

कांग्रेस ने ट्रंप के बयान पर संसद में बहस की मांग की
हालांकि कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सूरजेवाला ने कहा है कि डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) के बयान पर संसद में बहस होनी चाहिए. साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra modi) को इस पर अपनी बात संसद में रखनी चाहिए. साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस पर अपनी बात संसद में रखनी चाहिए. कांग्रेस ने लोकसभा और राज्यसभा में नोटिस देकर कहा है कि ट्रंप के बयान पर बहस कराई जाए.