Congress President Election: कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव लड़ने से पीछे हटे गहलोत, अब इन दो दिग्गजों के बीच होगी टक्कर!
topStorieshindi

Congress President Election: कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव लड़ने से पीछे हटे गहलोत, अब इन दो दिग्गजों के बीच होगी टक्कर!

Congress: अशोक गहलोत ने गुरुवार को दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की. कांग्रेस अध्यक्ष से मुलाकात के बाद सीएम गहलोत ने संवाददाताओं से बात की और कहा कि वह अध्यक्ष पद के लिए चुनाव नहीं लड़ेंगे. 

Congress President Election: कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव लड़ने से पीछे हटे गहलोत, अब इन दो दिग्गजों के बीच होगी टक्कर!

Rajasthan CM Ashok Gehlot: राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की. कांग्रेस अध्यक्ष से मुलाकात के बाद सीएम गहलोत ने संवाददाताओं से बात की और कहा कि वह अध्यक्ष पद के लिए चुनाव नहीं लड़ेंगे. 

अशोक गहलोत ने कहा, मैंने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से बातचीत की. दो दिन पहले जो कुछ भी हुआ उसने हमें झकझोर कर रख दिया. इसने संदेश दिया कि यह सब हुआ क्योंकि मैं सीएम बनना चाहता था. मैंने सोनिया गांधी से माफी मांगी. अशोक गहलोत के चुनाव लड़ने से इनकार करने के बाद अब अध्यक्ष पद के लिए टक्कर पार्टी के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह और शशि थरूर के बीच हो सकती है.

दिग्विजय सिंह पहुंचे दिल्ली 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह गुरुवार को केरल से नई दिल्ली में पार्टी मुख्यालय पहुंचे, जहां वह राहुल गांधी और पार्टी के अन्य नेताओं के साथ भारत जोड़ो यात्रा में भाग ले रहे थे. कांग्रेस अध्यक्ष की दौड़ में आए इस नए मोड़ से उन्होंने साफ कर दिया कि वह एक प्रतियोगी बनना चाहते हैं. दिग्विजय सिंह ने आज नामांकन पत्र भी लिया.

केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री के दिल्ली में मौजूद न होने के कारण वह शुक्रवार को नामांकन पत्र भरेंगे. नामांकन फॉर्म लेने के बाद उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, मैं शुक्रवार को नामांकन पत्र भर लूंगा और यह मैं अपने निजी फैसले पर से कर रहा हूं, आलाकमान की तरफ से ऐसा करने के लिए मुझे कोई इशारा नहीं किया है. दिग्विजय सिंह ने नामांकन पत्र की दस कॉपी ली है.

 

उन्हें मध्य प्रदेश की कांग्रेस इकाई से भी समर्थन मिला है और पार्टी के विधायकों का एक प्रतिनिधिमंडल सिंह को अपना समर्थन देने के लिए दिल्ली पहुंचेगा. नाम न छापने की शर्त पर एक कांग्रेस नेता ने न्यूज एजेंसी IANS से कहा, दिग्विजय सिंह क्यों होंगे एआईसीसी प्रमुख के लिए सर्वश्रेष्ठ उम्मीदवार, इसके तीन कारण हैं. पहला, उन्होंने प्रवक्ता का काफी अनुभव है. वे प्रशासन और संगठन के साथ कई वर्षो से जुड़े रहे हैं. दूसरा, वह हिंदी भाषी बेल्ट से ताल्लुक रखते हैं, जहां पार्टी की हालत पूरी तरह से खराब हो चुकी है. तीसरा कारण यह है कि कांग्रेस प्रमुख पीएम मोदी का मुकाबला करने का दमखम रखते हैं और इसलिए दिग्विजय सिंह पार्टी के पद के लिए सबसे अच्छे उम्मीदवार होंगे. 

कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस में शशि थरूर भी हैं. वह नामांकन पत्र ले चुके हैं. शशि थरूर 30 सितंबर को नामांकन पत्र भरेंगे. कांग्रेस अध्यक्ष पद चुनाव में कई सालों बाद ऐसा हो रहा है कि गांधी परिवार इस चुनाव में खड़ा नहीं हो रहा है.  दरअसल अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए 22 सितंबर को अधिसूचना जारी हो चुकी है. पर्चा दाखिल करने की प्रक्रिया 30 सितंबर तक चलेगी. यानी जो भी अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ना चाहता है वह पर्चा दाखिल कर सकता है. पार्टी के वरिष्ठ नेता मधुसूदन मिस्त्री की अध्यक्षता वाला केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण इस मतदान की देखरेख करेगा.

नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि 8 अक्टूबर रखी गई है. वोटिंग 17 अक्टूबर को होगी, जबकि चुनाव परिणाम 19 अक्टूबर को घोषित किए जाएंगे, वोटिंग तभी होगी जब दो उम्मीदवार चुनाव मैदान में होंगे. अगर एक प्रत्याशी खड़ा होता है तो उसे निर्विरोध चुन लिया जाएगा.

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

Trending news