'कांग्रेस के DNA में ही विभाजनकारी मानसिकता', संसद में पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें
topStories1hindi1091298

'कांग्रेस के DNA में ही विभाजनकारी मानसिकता', संसद में पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोक सभा में कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. वो अपने लंबे भाषण में कई बार कांग्रेस को घेरते दिखे. आपको बताते हैं पीएम के भाषण की मुख्य बातें...

'कांग्रेस के DNA में ही विभाजनकारी मानसिकता', संसद में पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा का लोक सभा में जवाब देते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. पीएम मोदी ने कांग्रेस की अब तक की हार का ब्योरा देते हुए कहा कि अब 'कांग्रेस की सत्ता में आने की इच्छा खत्म हो गई है.' आइये आपको बताते हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण की मुख्य बातें...

कांग्रेस पर पीएम मोदी का शायराना वार

वो जब दिन को रात कहें
तो तुरंत मान जाओ
नहीं मानोगे तो वो दिन में नकाब ओढ़ लेंगे
जरूरत हुई तो हकीकत को थोड़ा बहुत मरोड़ लेंगे
वो मगरूर है.. खुद की समझ पर बेइंतहा
इन्हें आइना मत दिखाओ
वो आइने को भी तोड़ देंगे

पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

  1. कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि पहले गैस कनेक्शन स्टेटस सिंबल हुआ करता था. अब गरीब से गरीब व्यक्ति तक इसकी पहुंच है और यह बहुत खुशी की बात है.

  2. देश का बड़ा दुर्भाग्य है कि सदन जैसी पवित्र जगह जो देश के लिए काम आनी चाहिए, लेकिन उसको दल के लिए काम में लेने का प्रयास हो रहा है. दुर्भाग्य ये है कि आपमें ( विपक्ष के) से बहुत से लोग ऐसे हैं जिनका कांटा 2014 में अटका हुआ है और उससे वो बाहर नहीं निकल पा रहे हैं. उसका नतीजा भी आपको भुगतना पड़ा है.

  3. कांग्रेस की हार का ब्योरा देता हुए पीएम मोदी ने कहा कि 1988 में त्रिपुरा की जनता ने आपको वोट दिया था, करीब 34 साल पहले. नागालैंड के लोगों ने आखिरी बार 1998 में कांग्रेस के लिए वोट किया था, करीब 24 साल हो गए. ओडिशा ने 1995 में आपके लिए वोट किया था, सिर्फ 27 साल हुए आपको वहां एंट्री नहीं मिली. गोवा में 1994 में पूर्ण बहुमत के साथ आप जीते थे, 28 साल से गोवा ने आपको स्वीकार नहीं किया. यूपी, गुजरात, बिहार ने आखिरी बार 1985 में कांग्रेस के लिए वोट किया था, करीब 37 साल पहले. पिछली बार पश्चिम बंगाल के लोगों ने करीब 50 साल पहले 1972 में आपको पसंद किया था.

  4. कोरोना की पहली लहर के दौरान देश जब लॉकडाउन का पालन कर रहा था, जब WHO दुनिया भर को सलाह देता था, सारे हेल्थ एक्सपर्ट कह रहे थे कि जो जहां है वहीं पर रुके. तब कांग्रेस के लोगों ने मुंबई के रेलवे स्टेशन पर खड़े रहकर मुंबई के श्रमिकों को जाने के लिए उनको टिकट दिया गया, लोगों को जाने के लिए प्रेरित किया गया.

  5. जिन्होंने भारत के अतीत के आधार पर ही भारत को समझने का प्रयास किया, उनकों तो आशंका थी कि शायद भारत इतनी बड़ी लड़ाई नही लड़ पाएगा, खुद को बचा नहीं पाएगा. कभी-कभी मुझे विचार आता है उनके बयानों से, उनके कार्यक्रमों से, जिस प्रकार से आप बोलते हैं, जिस प्रकार से आप मुद्दों को जोड़ते हैं तो ऐसा लगता है कि आपने (कांग्रेस) मन बना लिया है कि आपको 100 साल तक सत्ता में नहीं आना है.

  6. कुछ लोग हैं जिनको ये इंतजार था कि ये कोरोना वायरस मोदी की छवि को चपेट में ले लेगा, बहुत इंतजार किया. अगर मोदी वोकल फॉर लोकल कहता है, तो मोदी ने कहा इन शब्दों को छोड़ दो. लेकिन क्या आप नहीं चाहते कि देश आत्मनिर्भर बनें, जिस महात्मा गांधी के आदर्शों की बात करते हैं, तो इस अभियान को ताकत देने में आपका क्या जाता था. महात्मा गांधी जी के स्वदेशी के निर्णय को आगे बढाइये.

  7. सदन इस बात का साक्षी है कि कोरोना महामारी से जो स्थितियां उत्पन्न हुई, उससे निपटने के लिए भारत ने जो भी रणनीति बनाई उसको लेकर पहले दिन से क्या-क्या नहीं कहा गया है. दुनिया के और लोगों से बड़ी-बड़ी कांफ्रेंस करके ऐसी बातें बुलवाई गई ताकि पूरे विश्व में भारत बदनाम हो.

  8. इतने वर्षों तक देश पर राज करने वाले और महल जैसे घरों में रहने के आदी लोग,  छोटे किसान के कल्याण की बात करना भूल गए हैं. भारत की प्रगति के लिए छोटे किसान को सशक्त बनाना जरूरी है.  छोटा किसान ही भारत की तरक्की को मजबूत करेगा. 

  9. सैकड़ों वर्षों का गुलामी कालखंड, उसकी जो मानसिकता है, वो आजादी के 75 साल के बाद भी कुछ लोग बदल नहीं पाए. ये गुलामी की मानसिकता किसी भी राष्ट्र की प्रगति के लिए बहुत बड़ा संकट होती है. 

  10. आपके लिए File सबकुछ है. हमारे लिए 130 करोड़ देशवासियों की Life महत्वपूर्ण है. आप file में खोए रहे, हम life बदलने के लिए जी जान से जुटे हुए लोग हैं.  अगर गरीबी से मुक्ति चाहिए तो हमें छोटे किसानों को मजबूत बनाना होगा. छोटा किसान मजबूत होगा तो छोटी जमीन को भी आधुनिक करने की कोशिश करेगा. 

LIVE TV

Trending news