close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कांग्रेस साइकिल रैली के दौरान बच्‍चे की मौत का मामला: शव को रोहतक PGI भेजा गया

सोनीपत पुलिस ने कार्रवाई करते हुए बच्चे के शव को रोहतक के श्मशान से निकाला और परीक्षण के लिए रोहतक पीजीआई भेजा गया है. 

कांग्रेस साइकिल रैली के दौरान बच्‍चे की मौत का मामला: शव को रोहतक PGI भेजा गया
फाइल फोटो

नई दिल्ली: कांग्रेस के हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर अपनी साइकिल यात्रा में एक एंबुलेंस के फंसने के कारण बच्‍चे की मौत के मामले में घेरे में आ गए हैं.  हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल ने इस मामले की एसआईटी से जांच के आदेश दिए हैं. सोनीपत पुलिस ने कार्रवाई करते हुए बच्चे के शव को रोहतक के श्मशान से निकाला और परीक्षण के लिए रोहतक पीजीआई भेजा गया है. जहां उसका पोस्टमॉर्टन कराया जाएगा. वहीं, अशोक तंवर ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर कर कहा कि गलती उनकी नहीं, अस्पताल की है.

 

कांग्रेस के हरियाणा प्रदेश प्रधान अशोक तंवर ने ट्वीट कर कहा है, 'यह वह दुखी पिता की वीडियो है, जो साफ तौर पर बता रहे हैं कि बच्चे की मौत के लिए अस्पताल, डॉक्टर, बिना ऑक्सीजन व मेडिकल स्टाफ की एंबुलेंस जिम्मेदार है. मीडिया लोकतंत्र का एक स्तंभ है उन्हें रिपोर्टिंग करने से पहले तथ्यों को जान लेना चाहिए था. बच्चे के निधन से हम दुखी है, श्रद्धांजलि.'

हालांकि, अब इस वीडियो पर सवाल भी उठने लगे हैं, क्योंकि जिस वीडियो ट्वीट कर वो दुखी पिता को सुनाना चाह रहे हैं, असल में उस वीडियो में बच्चे का पिता नहीं बल्कि कोई रिश्तेदार सफाई दे रहा है. वहीं, एंबुलेंस का हेल्पर का कहना है कि रैली में करीब 30 मिनट के तक एंबुलेंस फंसी रही. उसने बताया कि रैली में नारे लग रहे थे, इसलिए किसी ने नहीं सुना. आपको बता दें कि हरियाणा सरकार ने इस मामले के लिए एसआईटी का गठन किया है. सरकार के कहना है कि जांच के बाद दोषी पाए गए आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी.