दिल्ली विधानसभा के फर्जी स्टिकर, पार्किंग पास बरामद, दो गिरफ्तार

दिल्ली विधानसभा के एक पूर्व उच्च अधिकारी के ड्राइवर और एक फर्जी पत्रकार की गिरफ्तारी के साथ उनके पास से विधानसभा के फर्जी स्टिकर और पार्किंग पास बरामद किए गए हैं। इसके साथ ही दिल्ली पुलिस ने विधानसभा की सुरक्षा को संभावित खतरे का भंडाफोड़ करने का दावा किया है।

दिल्ली विधानसभा के फर्जी स्टिकर, पार्किंग पास बरामद, दो गिरफ्तार

नयी दिल्ली: दिल्ली विधानसभा के एक पूर्व उच्च अधिकारी के ड्राइवर और एक फर्जी पत्रकार की गिरफ्तारी के साथ उनके पास से विधानसभा के फर्जी स्टिकर और पार्किंग पास बरामद किए गए हैं। इसके साथ ही दिल्ली पुलिस ने विधानसभा की सुरक्षा को संभावित खतरे का भंडाफोड़ करने का दावा किया है।

संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) रवीन्द्र यादव ने कहा कि रोहिणी इलाके में मारे गए छापे में अपराध शाखा ने विनोद बंसल और जितेन्दर को गिरफ्तार किया और उनके पास से कई फर्जी पहचान पत्र, दिल्ली विधानसभा के स्टिकर व पार्किंग पास और ‘डीवीएस’ (दिल्ली विधानसभा) का फर्जी स्टांप एवं फर्जी नंबर प्लेट वाली एक चोरीशुदा कार बरामद की।

खुद को एक समाचार चैनल का रिपोर्टर बताने वाले विनोद को उस समय गिरफ्तार किया गया जब वह 22 जून को अपराध शाखा द्वारा भेजे गए एक छद्म ग्राहक को फर्जी आई-कार्ड, पार्किंग पास और विधानसभा के फर्जी स्टिकर बेचने की कोशिश कर रहा था।

अधिकारी ने कहा, ‘विनोद ने पूछताछ के दौरान बताया कि उसने पूर्व उप सचिव लालमणि से आई-कार्डों और वीआईपी पास एवं स्टिकर हासिल किए थे और 2015 में उनकी बदली होने के बाद उसने लालमणि के निजी ड्राइवर जितेन्दर कुमार से इन्हें खरीदना शुरू किया था।’