close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्ली: चाइनीज मांझे की चपेट में आने से स्कूटी सवार की मौत

दिल्ली में 13, 14,और 15 अगस्त को  चाईनीज मांझे की चपेट में आने से करीब 500 पक्षी घायल हो गए

दिल्ली: चाइनीज मांझे की चपेट में आने से स्कूटी सवार की मौत
(प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली: दिल्ली में चाइनीज मांझे की चपेट में आने से एक शख्स की मौत का मामला सामने आया है. पश्चिम विहार इलाके के फ्लाईओवर से गुजर रहे एक शख्स की मौत गई. 

जानकारी के मुताबिक मानव शर्मा स्कूटी पर अपनी दो बहनों के साथ जा रहे थे जैसे ही पश्चिम विहार इलाके से गुजरे तो एक मांझा उनके गले में उलझ गया जिससे उनके गले से खून निकलने लगा. इस मामले में पुलिस ने 304 ए का केस दर्ज किया है. 

मांझे से संबधित कुल 14 पीसीआर कॉल पुलिस को मिली थी, जिसमे 8 लोग मांझे से घायल हुए हैं. इस मामले में आउटर डिस्ट्रीक्ट पुलिस ने 9 लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत केस दर्ज कर उनको गिरफ्तार किया है. 

पक्षियों पर टूटा चाइनीज मांझे का कहर
जब देश 73 वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा था. उस जश्न- ए -आज़ादी में बेजुबान पक्षियों की मौत हो रही थी. क्योंकि राजधानी दिल्ली में जश्न के मौके पर पतंग उड़ाने वाले चाइनीज मांझा पक्षियों पर कहर बनकर टूट रहा था. तंग उड़ाने वाले मांझे से कटकर करीब 200 पक्षियों की मौत हो गई और 500 पक्षी घायल हो गए 

दिल्ली के खुले आसमान में उड़ रहे इन परिंदों पर चाइनीज मांझा कहर बनकर इस कदर टूटा है..13, 14,और 15 अगस्त को  इन तीन दिनों में चाईनीज मांझे की चपेट में आने से करीब 500 पक्षी घायल हो गए जिनका जैन पक्षी अस्पताल में इलाज के लिए लाया गया था और सबसे चौकाने वाला आंकड़ा है इन तीन दिनों में करीब 200 पक्षियों की चाइनीज मांझे की चपेट में आने से मौत हो गई.

अस्पताल में बेजुबान परिंदों का इलाज कर रहे दो डॉक्टरों के मुताबिक पिछले साल के मुकाबले इस साल 15 अगस्त के मौके पर चाईनीज मांझे का शिकार ज्यादा पक्षी हुए है जिसमें तोता, मैना, कबूतर, चील, और दूसरे पक्षी शामिल है. ज्यादातर मामलों में इस बेजुबान पक्षियों की गर्दन, पंख मांझे की चपेट में आ गए. कई ऐसे पक्षी भी हैं जो अब कभी खुले आसमान में उड़ भी नही पाएंगे. 

15 अगस्त को गईं 60 से ज्यादा पक्षियों की मौत
चैरिटी बर्ड्स अस्पताल के कर्ताधर्ता सुनील कुमार जैन के मुताबिक केवल 15 अगस्त के दिन ही करीब 60 से ज्यादा पक्षियों की चाइनीज मांझे की चपेट में आने से दर्दनाक मौत हो गई. 

दिल्ली के चाँदनी चौक का चैरिटी बर्ड्स अस्पताल, 1913 में शुरू हुआ एक निशुल्क अस्पताल है जहां हर नस्ल के पक्षियों का इलाज किया जाता है. यहां रोजाना करीब 70 से 80 पक्षियों को इलाज के लिए लाया जाता है।