close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: बदमाशों ने पूछा- 'भइया श्रद्धानंद कॉलेज कहां पड़ता है', फिर कारोबारी को मारी 3 गोलियां

बदमाशों ने कॉलेज का पता पूछने के बहाने एक हार्डवेयर शॉप में घुसकर दुकान मालिक के बेटे को तीन गोलियां मार दीं.

VIDEO: बदमाशों ने पूछा- 'भइया श्रद्धानंद कॉलेज कहां पड़ता है', फिर कारोबारी को मारी 3 गोलियां
सूत्रों की मानें तो इसी मार्केट से कई बड़े दुकानदार रंगदारी का शिकार हो चुके हैं.

नई दिल्ली: अलीपुर इलाके में शनिवार सुबह बाइक सवार बदमाशों ने एक हार्डवेयर की दुकान में घुसकर कॉलेज का पता पूछने के बहाने दुकान मालिक के बेटे को तीन गोली मार दी. वारदात के बाद बदमाश अपने साथी के साथ बाइक से फरार हो गए. घायल कारोबारी को अस्पताल में भर्ती कराया गया. डॉक्टरों ने उसकी हालत गंभीर बताई है. वारदात दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई है.

घायल कारोबारी की पहचान सन्नी जैन के रूप में हुई है. वह परिवार के साथ अलीपुर गांव में रहता है. सन्नी के घर से कुछ दूरी पर मैन मार्केट में जैन हार्डवेयर के नाम से दुकान है. वह अपने पिता की दुकान चलाने में मदद करता है. दुकान पर दो कर्मचारी भी काम करते हैं.

पीड़ित परिवार ने बताया, शनिवार सुबह करीब साढ़े 11 बजे सन्नी अपनी दुकान पर कर्मचारी के साथ बैठा हुआ था. इसी बीच बाहर एक बाइक आकर रुकी, जिस पर तीन लोग सवार थे. तीनों ने हेलमेट नहीं पहन रखे थे. दो बदमाश दुकान में आए, जिसमें से एक ने श्रद्धानंद कॉलेज जाने का रास्ता पूछा. सन्नी ने उनको रास्ता बता रहा था, इसी दौरान एक बदमाश दो से तीन कदम पीछे हुए. अचानक एक ने सन्नी पर गोली चला दी. गोली सन्नी के हाथ में लगी फिर दूसरे बदमाश ने सन्नी को दो गोली मार दीं. दोनों गोलियां उसके पेट में लगीं. आप भी देखिए घटना का वीडियो...

दोनों बदमाश अपने साथी के साथ बाइक से फरार हो गए. कर्मचारी ने शोर मचाकर बदमाशों को पकडऩे की कोशिश की. गन की आवाज सूनकर आसपास के दुकानदार मौके पर पहुंचे. कर्मचारी ने वारदात की सूचना परिवार और पीसीआर को दी. फर्श पर खून से लथपथ हालत में पड़े सन्नी को तुरंत मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया. डॉक्टरों ने सन्नी की हालत गंभीर बताई है.

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, सन्नी की हालत गंभीर बनी हुई है. बयान नहीं होने की वजह से हमला के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है. पुलिस परिवार वालों से पूछताछ कर यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि सन्नी को किसी से कोई धमकी तो नहीं मिली थी. परिवार वालों ने रंगदारी की बात से अभी तक इनकार किया है, लेकिन सूत्रों की मानें तो इसी मार्केट से कई बड़े दुकानदार रंगदारी का शिकार हो चुके हैं.  

पुलिस बदमाशों की पहचान करने की कोशिश कर रही है. शुरुआती जांच में वारदात रंगदारी देने से मना करने पर की गई थी, जबकि पुलिस मामले में अभी कुछ कहने को राजी नहीं है. वारदात के बाद परिवार काफी डरा-सहमा हुआ है. पुलिस कारोबारी के परिजनों से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है. पुलिस वारदात तिहाड़ कनेक्शन को लेकर भी देख रही है, क्योंकि कई अलीपुर के रहने वाले बदमाश तिहाड़ जेल में बंद होने के बावजूद बाहर अपने गुर्गों के जरिए कारोबारियों से रंगदारी वसूल रहे हैं.