हिसार: गुरु जंभेश्वर यूनिवर्सिटी में कुश्ती का महा मुकाबला, 1600 खिलाड़ी ले रहे भाग

हिसार के गुरु जंभेश्वर यूनिवर्सिटी में आज से ऑल इंडिया इंटर यूनिवर्सिटी रेस्लिंग फ्री स्टाइल व मैन ग्रीको रोमन चैंपियनशिप का आगाज हो गया है.

हिसार: गुरु जंभेश्वर यूनिवर्सिटी में कुश्ती का महा मुकाबला, 1600 खिलाड़ी ले रहे भाग

हिसार: हिसार के गुरु जंभेश्वर यूनिवर्सिटी में आज से ऑल इंडिया इंटर यूनिवर्सिटी रेस्लिंग फ्री स्टाइल व मैन ग्रीको रोमन चैंपियनशिप का आगाज हो गया है. देशभर की 140 यूनिवर्सिटी के 1600 खिलाड़ी कुश्ती के इस महामुकाबले में भाग लेने के लिए पहुंचे है. प्रतियोगिता का आगाज अर्जुन अवार्डी गीतिका जाखड़ और हरियाणा के प्रख्यात पहलवान उदयचंद ने यूनिवर्सिटी के वीसी प्रोफेसर टंकेश्वर कुमार की मौजूदगी में किया है. मुकाबलों का आगाज हो गया है, दिन भर आज अलग—अलग यूनिवर्सिटी के पहलवानों के बीच मुकाबले हुए. माहौल ऐसा रहा कि एक पहलवान दूसरे पहलवान को पटखनी देने का प्रयास करता नजर आ रहा है.

कभी लाल तो कभी नीले कपड़े पहना खिलाड़ी अपने सामने वाले पर हावीं नजर आ रहा है. इस बीच दर्शक दीर्घा में बैठे खेलप्रेमी हूटिंग के जरिए अपने पंसदीदा पहलवान का उत्साह जरूर बढ़ाते नजर आएं.

स्पोटर्स फ्लैग फहराकर किया आगाज
हिसार के गुरु जंभेश्वर विश्वविद्यालय के चौधरी रणबीर सिंह ओडिटोरियम में इस कार्यक्रम का आगाज अर्जुन अवार्डी एवं और हरियाणा पुलिस में डीएसपी गीतिका जाखड़ और हरियाणा के प्रख्यात पहलवान उदयचंद ने यूनिवर्सिटी के वीसी प्रोफेसर टंकेश्वर कुमार, रजिस्ट्रार आरके पूंडीर तथा खेल निदेशक डॉ. एसबी लुथरा की मौजूदगी में किया. इस दौरान अर्जुन आवार्डी गीतिका जाखड़ ने खेल का आगाज झंडे फहराकर किया. कार्यक्रम के दौरान जीजेयू के योगा विभाग के स्टूडेंटस ने योगा की प्रस्तुतियों के जरिए भव्य रूप से गणेश वंदना की बेहतरीन प्रस्तुति दी गई. इसके अलावा स्टूडेंटस ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियां पेश कर सभी का मन मोह लिया.

वीसी बोले, एक खेल खेलना भी स्टूडेंट के लिए जरूरी—
यूनिवर्सिटी के वीसी प्रोफेसर टंकेश्वर कुमार ने इस चैंपियनशिप की मेजबानी को यूनिवर्सिटी के लिए बड़ी उपलब्धि बताया. खिलाड़ी अपनी ऊर्जा का प्रयोग अपने खेल को उच्च स्तर पर ले जाने के लिए करें. उन्होंने कहा कि इस आयोजन से विश्वविद्यालय की पहचान राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर बनेगी.  साथ ही विश्वविद्यालय तथा प्रदेश में कुश्ती के प्रति रूझान बढ़ेगा. विद्यार्थियों को शिक्षा के साथ-साथ किसी भी एक खेल स्पर्धा में भाग लेना बहुत आवश्यक है. यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार आरके पूंडीर का कहना है कि खिलाड़ियों को सबसे ज्यादा फायदा यही होगा कि उन्हें नेशनल लेवल के मुकाबलों में भाग लेने का मौका मिला है, साथ ही इससे उनकी उर्जा सकारात्मक दिशा में लगती है. चैम्पियनशिप का आयोजन यूनिवर्सिटी के रजत जयंति समारोह को समर्पित है.

अर्जुन अवार्डी गीतिका बोली, सोच उंची रखें—
कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि शिरकत करने पहुंची अर्जुन अवार्डी गीतिका जाखड़ ने अपने संबोधन में उपस्थित खिलाड़ियों का जोश बढ़ाने का काम किया. उन्होंने कहा कि किसी भी प्रतियोगिता को खिलाड़ी हलके में ना लें, अपनी सोच उंची रखे. साथ ही उन्होंने खिलाड़ियों से गूगल और इंटरनेट की सहायता से दवाओं की जानकारी जुटाने का भी आहवान किया, ताकि वो डोपिंग का शिकार होने से बच सके. ​गीतिका ने कहा कि खेल से पहले कई बार बुखार के हालात में बुखार की दवा ले बैठते है, लेकिन जानकारी के अभाव में ऐसी दवा के सेवन के चलते भी डोपिंग का शिकार हो जाते है. साथ ही उन्होंने खिलाड़ियों से अपने लक्ष्य को उंचा रखने का आहवान किया. उन्होंने कहा कि आज प्रदेश की सरकार खिलाड़ियों को मान सम्मान देने के लिए अनेक योजनाएं भी चला रही है. हालांकि गीतिका ने माना की ग्राउंड पर इन योजनाओं को अमलीजामा वैसे नहीं पहनाया गया है, जैसे सोचा गया था. गीतिका जाखड़ ने कहा कि खिलाड़ी को अपनी उर्जा सकारात्मक दिशा में लगाते हुए आगे बढ़ना चाहिए.

अर्जुन अवार्डी उदयचंद ने भी सांझे किए अनुभव
कुश्ती के इस महामुकाबले में हरियाणा के प्रख्यात पहलवान और अर्जुन अवार्डी उदयचंद भी पहुंचे. उन्होंने भी इस दौरान अपने दौर की यादे सांझा की, साथ ही उन्होंने कहा कि इस प्रकार के मुकाबलों में भाग लेने से खिलाड़ियों की प्रतिभा में निखार आता है. उदयचंद ने देश का नाम कुश्ती के कई मुकाबलों में चमकाने का काम किया था. उदयचंद ने खिलाड़ियों से अपनी उर्जा सकारात्मक दिशा में लगाने का आहवान किया.

फैंसले पर विरोध ना हो, इसलिए ओलिंपिक एवं एशियन गेम्स की तर्ज पर होंगे फैंसले
जीजेयू में हो रही आॅल इंिडया इंटर यूनिवर्सिटी रेस्लिंग फ्री स्टाइल व मैन ग्रीको रोमन चैंपियनशिप 18 नंवबर तक चलेगी. चैंपियनशिप के आयोजन में अहम भूमिका निभा रहे जीजेयू के खेल विभाग के निदेशक डॉ. एसबी लुथरा ने बताया कि चैम्पियनशिप का आयोजन देशभर के 45 टेक्नीक्ल एक्सपर्ट और 250 टीम मैनेजर्स के नेतृत्व में किया जा रहा है. खिलाडिय़ों और स्टॉफ के रहने की समुचित व्यवस्था की गई है. उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों में प्रतियोगिता को लेकर खास जोश देखने को मिला. उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता की खास बात यह भी है कि ओलिंपिक एवं एशियन गेम्स की तर्ज पर गेम के लिए कम्प्यूटराइज्ड मशीन मंगवाई गई है. यह इसलिए मंगवाई है कि यदि कोई भी खिलाड़ी बाउट पर सवाल उठाता है तो उसे रिप्ले कर देखा जा सके. इससे रिजल्ट में कोई छेडछाड़ नहीं की जा सकती.

आपकों बता दें कि इस चैंपियनशिप में आपका पंसदीदा जी पंजाब हरियाणा हिमाचल चैनल भी बतौर मीडिया पॉर्टनर के तौर पर सहभागिता दिखा रहा है. ताकि इन प्रतियोगिता में भाग लेने वाले इन युवाओं का तो हौंसला बढ़े ही साथ ही इन युवाओं से प्रेरित होकर देश के दूसरे युवां भी खेलों के प्रति अपनी रूचि बढ़ाएं और नशे रूपी कुरीति से हम सभी मिलकर लड़ सके तथा युवाओं की उर्जा का साकारात्मक दिशा में इस्तेमाल हो सके.