JNU छात्रों का मार्च: धारा 144 के उल्‍लंघन के आरोप में दिल्‍ली पुलिस ने दर्ज की FIR

 फीस बढो़तरी के खिलाफ सोमवार (18 नवंबर) को  जेएनयू छात्रों (students) ने संसद तक पैदल मार्च किया था.

JNU छात्रों का मार्च: धारा 144 के उल्‍लंघन के आरोप में दिल्‍ली पुलिस ने दर्ज की FIR

नई दिल्ली: जेएनयू (JNU) प्रोटेस्ट मामले में दिल्ली पुलिस ने धारा 144 (section 144) तोड़ने के आरोप में अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज की है. पुलिस ने किशनगढ़ थाने में केस दर्ज किया है.  इस प्रदर्शन में दिल्ली (delhi) के पुलिस के 30 जवान और जेएनयू के 15 छात्र घायल हुए थे. 

बता दें फीस बढो़तरी के खिलाफ सोमवार (18 नवंबर) को  जेएनयू छात्रों (students) ने संसद तक पैदल मार्च किया था. पुलिस ने छात्रों के मार्च को रोकने के लिए जबरदस्त सुरक्षा प्रबंध किए थे. JNU के कैंपस के बाहर धारा 144 लगाई गई थी और यूनिवर्सिटी के गेट पर बैरिकेड भी लगाए थे. लेकिन छात्र यूनिवर्सिटी से बाहर निकल आए और संसद की तरफ मार्च करने लगे. 

छात्रों के विरोध प्रदर्शन के कारण सफदरजंग अस्पताल, अरविंदो मार्ग, एम्स और सफदरजंग मकबरे के पास के इलाकों में भारी जाम की स्थिति पैदा हो गई. पुलिस ने रास्ते में बैरिकेड्स लगाए, जिसे छात्र लांघने लगे.

प्रशासन ने संसद भवन के पास स्थित तीन मेट्रो स्टेशनों के गेट बंद कर दिए, ताकि छात्रों को संसद पहुंचने से रोका जा सके. दिल्ली मेट्रो ने एक बयान में कहा कि जेएनयू छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए एहतियातन, उद्योग विहार और पटेल चौक स्टेशनों पर ट्रेन पकड़ने या उतरने की व्यवस्था खत्म कर दी गई. उद्योग भवन, पटेल चौक और केंद्रीय सचिवालय स्टेशनों के गेट अस्थायी तौर पर बंद कर दिए गए.

आखिरकार शाम को केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री द्वारा फीस बढ़ोतरी वापस लेने का आश्वासन मिलने के बाद छात्रों ने अपना धरना खत्म कर दिया.