घर में हो पूजा कक्ष- तो जानें क्‍या करें और क्या न करें

हिंदू धर्म में भगवान को मानने वाले तकरीबन सभी लोगों के घर में पूजा कक्ष होता है। चाहे वह बड़ा हो या छोटा। घर में पूजा घर बना होने से आपके घर में तथा इसमें रहने वालों को एक सकारात्मक ऊर्जा मिलती है। जिनके घरों में पूजा का कमरा होता है, उन्‍हें उस कमरे की साज-सज्‍जा का भी ध्‍यान जरूर रखना चाहिए। इस कक्ष में घर के सभी सदस्‍य रोजाना पूर्जा अर्चना करते हैं। घर में पूजा कक्ष होने पर कुछ जरूरी बातों भी ध्‍यान रखना चाहिए।

घर में हो पूजा कक्ष- तो जानें क्‍या करें और क्या न करें

नई दिल्‍ली : हिंदू धर्म में भगवान को मानने वाले तकरीबन सभी लोगों के घर में पूजा कक्ष होता है। चाहे वह बड़ा हो या छोटा। घर में पूजा घर बना होने से आपके घर में तथा इसमें रहने वालों को एक सकारात्मक ऊर्जा मिलती है। जिनके घरों में पूजा का कमरा होता है, उन्‍हें उस कमरे की साज-सज्‍जा का भी ध्‍यान जरूर रखना चाहिए। इस कक्ष में घर के सभी सदस्‍य रोजाना पूर्जा अर्चना करते हैं। घर में पूजा कक्ष होने पर कुछ जरूरी बातों भी ध्‍यान रखना चाहिए।

- भगवान की मूर्ति या प्रतिमा को पूर्व या पश्चिम दिशा की ओर मुख करके रखना चाहिए।
- किसी भी सूरत में प्रतिमा को उत्‍तर या दक्षिण दिशा की ओर करके नहीं रखना चाहिए।
-बेडरूम का इस्‍तेमाल पूजा घर बनाने के लिए नहीं करना चाहिए।
-पूजा घर के निकट बाथरूम और टॉयलेट नहीं होना चाहिए।
-पूजा घर में किसी भी मंदिर के शीर्ष पर स्‍थापति कलश की तरह बनावट का अनुकरण नहीं करना चाहिए।
-भगवान की मूर्ति को एक-दूसरे के आमने सामने नहीं रखना चाहिए।
-पूजा घर में पीतल के लैंप या दीपक को हर सुबह शाम जरूर जलाना चाहिए।
-पूजा घर को हमेशा साफ-सुथरा और व्‍यवस्थित रखना चाहिए।