मनी लॉन्ड्रिंग केस: Shiv Sena विधायक प्रताप सरनाईक के 10 ठिकानों पर ED का छापा

शिवसेना (Shiv Sena) विधायक प्रताप सरनाईक (Pratap Sarnaik) के आवास और ऑफिस समेत 10 ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने छापेमारी की है.

मनी लॉन्ड्रिंग केस: Shiv Sena विधायक प्रताप सरनाईक के 10 ठिकानों पर ED का छापा
प्रतीकात्मक तस्वीर

मुंबई: प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने धन शोधन मामले में शिवसेना (Shiv Sena) विधायक प्रताप सरनाईक (Pratap Sarnaik) के ठाणे के घर और ऑफिस पर छापेमारी की है. बताया जा रहा है कि ईडी प्रताप सरनाईक के घर और ऑफिस समेत मुंबई और ठाणे के 10 ठिकानों पर तलाशी कर रही है. हालांकि ईडी ने अभी इस बात की जानकारी नहीं दी है कि यह छापेमारी किस मामले में की जा रही है.

कौन हैं प्रताप सरनाईक
बता दें कि प्रताप सरनाइक (Pratap Sarnaik) ठाणे के ओवला-मजीवाड़ा विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं. वह शिवसेना (Shiv Sena) के महाराष्ट्र प्रवक्ता और मीरा-भयंदर क्षेत्र के लिए संचार नेता भी हैं. सरनाईक बीजेपी के खिलाफ लगातार आक्रमक रहते हैं और हाल ही में कंगना रनौत द्वारा मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से करने के मामले में राजद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की मांग के बाद चर्चा में आए थे. इसके अलावा अर्नब गोस्वामी के विरोध में विधान सभा में विशेष अधिकार हनन प्रस्ताव लेकर आए थे और कलर्स चैनल के शो बिग बॉस में कुमार शानू के बेटे जान शानू के मराठी के खिलाफ बोलने का भी मुद्दा उठाया था.

LIVE टीवी

संजय राउत ने बताया राजनीतिक साजिश
छापेमारी के बाद शिव सेना नेता संजय राउत ने कहा, 'अगर किसी को लगता है कि किसी एजेंसी से दबाव डालकर सरकार बनाई जा सकती हैं तो ऐसा नहीं होगा.' इसके साथ ही उन्होंने प्रताप सरनाईक के ठिकानों पर छापेमारी को एक राजनीतिक साजिश बताया है.

ये भी पढ़ें- Devendra Fadnavis बोले- एक दिन भारत का हिस्सा होगा Karachi, शिवसेना ने कसा तंज

सीधे विधायक के खिलाफ नहीं है मामला
अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार विधायक प्रताप सरनाईक के खिलाफ सीधे तौर पर कोई मामला नहीं है. बताया जा रहा है कि मामले कंपनी और कुछ लोगों के खिलाफ है, जिसमें रेड की जा रही है.
(इनपुट- प्रमोद शर्मा)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.