केंद्रीय मंत्री हंसराज अहीर को आया गुस्सा, कहा- 'डॉक्टर चाहें तो नक्सली बन जाएं ताकि हम उन्हें गोली मार सकें'

महाराष्ट्र में डॉक्टरों की छुट्टी पर नाराजगी जाहिर करते हुए केंद्रीय मंत्री हंसराज अहीर ने उन्हें नक्सली बनने की सलाह दे डाली.

केंद्रीय मंत्री हंसराज अहीर को आया गुस्सा, कहा- 'डॉक्टर चाहें तो नक्सली बन जाएं ताकि हम उन्हें गोली मार सकें'
केंद्रीय मंत्री हंसराज अहीर. तस्वीर साभार: ANI

नई दिल्ली: महाराष्ट्र में डॉक्टरों की छुट्टी पर नाराजगी जाहिर करते हुए केंद्रीय मंत्री हंसराज अहीर ने उन्हें नक्सली बनने की सलाह दे डाली. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर डॉक्टर लोकतंत्र में यकीन नहीं रखते हैं तो उन्हें नक्सली बन जाना चाहिए और फिर हम उन्हें गोली मार देंगे. हंसराज अहीर ने सोमवार (25 दिसंबर) को महाराष्ट्र के चंद्रपुर में एक अस्पताल के उद्घाटन के मौके पर कहा, 'मैं लोकतांत्रिक तरीके से चुना गया मंत्री हूं, यह जानने के बावजूद कि मैं यहां आ रहा हूं डॉक्टरों ने क्यों छुट्टी ले ली. अगर वह लोकतंत्र में आस्था नहीं रखते हैं तो उन्हें नक्सलियों के साथ चले जाना चाहिए, ताकि हम उन्हें गोली मार सकें.' 

Hansraj Ahir, Hospital, Maharashtra's Chandrapur  

बांग्लादेश को बताया था भारत के लिए खतरा
केंद्रीय मंत्री हंसराज अहीर इससे पहले भी अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहे हैं. हंसराज अहीर ने कहा था, पाकिस्तान के अलावा भारत का ‘तथाकथित दोस्त’ बांग्लादेश भी देश की सुरक्षा के लिए खतरा है. एसोचैम द्वारा आयोजित आंतरिक सुरक्षा पर एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था, 'बांग्लादेश महज तथाकथित दोस्त है क्योंकि साफ तौर पर उसने घुसपैठ के जरिए भारत को बहुत नुकसान पहुंचाया है.'

एसोचैम की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में अहीर के हवाले से कहा गया है, ‘केवल चीन या पाकिस्तान ही नहीं, बांग्लादेश भी हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए समान रूप से चुनौती पेश कर रहा है , मैं यह जानता हूं क्योंकि मैंने यह करीब से देखा है.’ 

गृह राज्य मंत्री अहीर ने कहा कि सरकार ने कश्मीर में घुसपैठ रोकने के लिए आधुनिक तकनीक और उपकरण लगाए हैं और अन्य मोर्चे- चाहे नक्सलियों से मुकाबला हो या, केरल में युवाओं के कट्टर बनने का बढ़ता मामला, रेलवे, हवाईअड्डे और इस तरह की अन्य जगहों की सुरक्षा का मामला हो, इसका इस्तेमाल किया जा रहा है.

उन्होंने कहा, ‘चीन आज हमारा बहुत करीबी नहीं है, उसने देश के लिए हमेशा दिक्कतें बढ़ाई है. और चाहे चीन, म्यांमा, बांग्लादेश हो या पाकिस्तान के जरिए भारत आ रहे आतंकवादी, हम घुसपैठ रोकने के लिए विभिन्न आधुनिक तकनीक के इस्तेमाल को बढ़ावा देंगे.’

'हम चाहें तो POK को वापस लेने से हमें कोई नहीं रोक पाएगा'
केंद्रीय मंत्री हंसराज अहीर ने इसी साल नंवबर में कहा था कि भारत यदि पाकिस्तान से पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) लेना चाहे तो उसे कोई रोक नहीं सकता. उन्होंने जोर दे कर कहा कि पीओके भारत का हिस्सा है. केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अहीर ने कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर (पीओके) पिछली सरकारों की गलतियों की वजह से पाकिस्तान के अधीन है.

उन्होंने कहा, ‘‘मैं कहता हूं कि पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर भारत का हिस्सा है और पिछली सरकारों की गलतियों की वजह से यह पाकिस्तान के पास है. यदि हम पीओके वापस लेने का प्रयास करते हैं तो हमें कोई रोक नहीं सकता क्योंकि यह हमारा अधिकार है.’’ मंत्री ने कहा कि भारत पाकिस्तान से यह क्षेत्र वापस लेने का प्रयास करेगा.