बड़ी खबर ! स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बताया कब आएगी कोरोना की वैक्सीन

आईसीएमआर कोरोना वायरस (Coronavirus) की वैक्सीन के विकास के बारे में जानकारी देने के लिए एक पोर्टल बना रहा है, जिस पर अंग्रेजी के अलावा कई क्षेत्रीय भाषाओं में जानकारी दी जाएगी.

बड़ी खबर ! स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बताया कब आएगी कोरोना की वैक्सीन
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन | फाइल फोटो

नई दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि अगर सब कुछ ठीक रहा तो भारत को कोरोना वायरस (Coronavirus) की वैक्सीन इस साल के आखिर तक मिल जाएगी. भारत में कोविड-19 के तीन वैक्सीन विकास के विभिन्न चरणों में हैं. इनमें से दो वैक्सीन स्वदेशी हैं.

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव ने हाल ही में बताया था कि कोविड-19 के दो स्वदेशी वैक्सीन ह्यूमन ट्रायल का पहला चरण पूरा कर चुके हैं और दूसरे चरण का परीक्षण किया जा रहा है. इनमें से एक वैक्सीन को भारत बायोटेक ने आईसीएमआर के साथ मिलकर विकसित किया है और दूसरी वैक्सीन जाइडस कैडिला लिमिटेड ने तैयार की है.

पुणे के सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा विकसित कोविड-19 की वैक्सीन के दूसरे और तीसरे चरण का ह्यूमन ट्रायल करने की अनुमति दे दी गई है. अगले सप्ताह परीक्षण शुरू हो सकता है.

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने शनिवार को ट्वीट किया, ‘मैंने उम्मीद जताई है कि अगर सब कुछ ठीक रहा तो भारत इस साल के आखिर तक कोरोना वायरस का टीका हासिल कर लेगा.’

ये भी पढ़े- घायल महिला के लिए संकटमोचक बने ITBP के जवान, 40 किमी तक पैदल चलकर हॉस्पिटल पहुंचाया

इस बीच आईसीएमआर भारत और विदेशों में कोविड-19 की वैक्सीन के विकास के बारे में जानकारी देने के लिए एक पोर्टल बना रहा है, जिस पर अंग्रेजी के अलावा कई क्षेत्रीय भाषाओं में जानकारी दी जाएगी.

आईसीएमआर में महामारी विज्ञान एवं संचारी रोग विभाग के प्रमुख समीरन पांडा ने शनिवार को बताया कि पोर्टल बनाने का उद्देश्य कोविड-19 की वैक्सीन के विकास के बारे में जानकारी एक ही जगह पर उपलब्ध करवाना है क्योंकि अभी इस सबंध में सूचनाएं बिखरी हुई हैं. पोर्टल अगले हफ्ते तक शुरू हो सकता है.

VIDEO

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.