हिमाचल चुनाव: अपनी सीट नहीं बचा पाए बीजेपी के सीएम कैंडिडेट धूमल, सुजानपुर सीट पर कांग्रेस जीती

सुजानपुर सीट के लिए बीजेपी के उम्मीदवार और कद्दावर नेता प्रेम कुमार धूमल राजनीति में उनके चेले रहे कांग्रेस उम्मीदवार राजेंद्र राणा से 1919 वोटों से हार गए. 

हिमाचल चुनाव: अपनी सीट नहीं बचा पाए बीजेपी के सीएम कैंडिडेट धूमल, सुजानपुर सीट पर कांग्रेस जीती

शिमला: हिमाचल प्रदेश चुनाव 2017 में सुजानपुर सीट के लिए बीजेपी के उम्मीदवार और कद्दावर नेता प्रेम कुमार धूमल राजनीति में उनके चेले रहे कांग्रेस उम्मीदवार राजेंद्र राणा से 1919 वोटों से हार गए. अब तक की काउंटिंग में धूमल को जहां 7584 वोट मिले हैं, वहीं राणा को 8254 मत हासिल हुए हैं. प्रेम कुमार धूमल हिमाचल में बीजेपी के मुख्यमंत्री पद के भी उम्मीदवार हैं. ऐसे में उनकी जीत या हार भाजपा के लिए काफी अहम है.

राजेंद्र राणा हैं कभी धूमल के बेहद खासमखास हुआ करते थे. एक वक्‍त था जब धूमल के सारे चुनाव का दारोमदार राणा के कंधों पर रहता था, लेकिन धूमल सरकार के कार्यकाल के दौरान ही शिमला के एक प्राइवेट होटल में हुई पैसों की लेन-देन को लेकर धूमल और उनके परिवार पर सवाल उठ खड़े हुए थे. इसके बाद राणा और धूमल के रिश्‍ते धूमिल हो गए थे और राणा ने बीजेपी से रिश्ता तोड़ लिया था. साल 2012 में जब वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार बनी थी, तो उन्‍हें राजेंद्र राणा का समर्थन भी बाहर से मिला था. राजेंद्र राणा बीजेपी सरकार में पूर्व सीएम धूमल के पूर्व ओसडी के मित्र थे. बाद में धूमल ने राणा को प्रदेश मीडिया सलाहकार समिति के चेयरमैन बनाया गया था.

LIVE: Himachal Pradesh Election Results 2017- धूमल या वीरभद्र.. किसके सिर सजेगा ताज, नतीजों की घोषणा आज

राजेंद्र राणा ने साल 2012 के विधानसभा चुनाव में निर्दलीय चुनाव लड़ते हुए भारी अंतर से जीत हासिल की थी. उन्होंने इस सीट पर 24,674 वोट हासिल किए थे. 

दूसरी ओर, 73 वर्षीय प्रेम कुमार धूमल वर्ष 1998 से मार्च 2003 तक (बीजेपी-हिमाचल विकास कांग्रेस गठबंधन) और दिसंबर 2007 से दिसंबर 2012 तक दो बार हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं.