जम्मू कश्मीरः कुपवाड़ा से जैश-ए-मोहम्मद का आतंकी मंजूर अहमद गिरफ्तार

जम्मू कश्मीरः कुपवाड़ा से जैश-ए-मोहम्मद का आतंकी मंजूर अहमद गिरफ्तार
कुपवाड़ा के भद्रा से जैश ए मोहम्मद का आतंकी मंजूर अहमद गिरफ्तार (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के बादरा में भारतीय सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी मिली है. यहां सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में आतंकी मंजूर अहमद भट को गिरफ्तार किया गया है. मंजूर अहमद जैश ए मोहम्मद का आतंकी है. मंजूर गुप्त रूप से आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के लिए काम करता था. इस ऑपरेशन के दौरान सुरक्षाबलों ने एक जिंदा ग्रेनेड भी बरामद किया है. 

जम्मू कश्मीर में सेना और सुरक्षाबलों ने आतंकियों की जड़े खत्म करने के लिए अपना अभियान तेज कर दिया है. इसी के तहत पिछले कुछ महीनों के दौरान कई बड़े आतंकियों को मार गिराया है. आतंकियों के साथ-साथ उनके पैरोकारों पर भी बड़ी कार्रवाई की है. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने आतंकवादियों को पैसे मुहैया कराने और कश्मीर घाटी में विध्वंसकारी गतिविधियों के मामलों में अपनी जांच के सिलसिले में सोमवार को कट्टरपंथी अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी के दामाद अल्ताफ अहमद शाह सहित सात व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया. 

एनआईए के छापे में मिली थी आपत्तिजनक सामग्री

केंद्रीय एजेंसी को छापे के दौरान खाता बही, दो करोड़ रुपये नकद के साथ ही लश्करे तैयबा और हिज्बुल मुजाहिदीन सहित प्रतिबंधित आतंकवादी समूहों के लेटरहेड मिले थे. एनआईए की जांच का उद्देश्य आतंकवादी गतिविधियों के वित्तपोषण के पीछे जो लोग हैं उनकी पहचान करना था. इसमें सुरक्षा बलों पर पथराव, स्कूल जलाने और सरकारी प्रतिष्ठानों को क्षति पहुंचाने की साजिश रचने वाले भी शामिल हैं. कश्मीर में 1990 की शुरुआत में आतंकवाद बढ़ने के बाद पहली बार ऐसा हुआ है कि किसी केंद्रीय एजेंसी ने अलगाववादियों के वित्तपोषण के सिलसिले में छापेमारी की है.

गिरफ्तारियों के विरोध में कश्मीर बंद का आह्वान

आतंकवादियों को पैसे मुहैया कराने के मामले की जांच के सिलसिले एनआईए की ओर से अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी के दामाद सहित सात लोगों की गिरफ्तारी के विरोध में अलगाववादियों ने मंगलवार को कश्मीर बंद का आह्वान किया है.

अलगाववादियों ने एक बयान जारी कर कहा, ‘सैयद अली शाह गिलानी, मीरवाइज उमर फारूक और मोहम्मद यासीन मलिक के संयुक्त प्रतिरोधक नेतृत्व ने मंगलवार को पूरी हड़ताल और कश्मीर बंद का आह्वान किया है, ताकि हुर्रियत नेताओं की मनमानी और अवैध गिरफ्तारियों की निंदा की जा सके.’ एनआईए ने सोमवार को गिलानी के दामाद अल्ताफ अहमद शाह, शहीदुल इस्लाम, अयाज अकबर, मेहराजुद्दीन कलवाल, पीर सैफुल्ला और दो अन्य को गिरफ्तार किया. आतंकवादियों को पैसे मुहैया कराने और कश्मीर घाटी में विध्वंसक गतिविधियों को अंजाम देने के मामले में अपनी जांच के सिलसिले में एनआईए ने इन लोगों को गिरफ्तार किया है.