17 साल की लड़की ने यूट्यूब देखकर घर पर ही दिया बच्‍चे को जन्‍म, पैरेंट्स को भी पता नहीं चला
X

17 साल की लड़की ने यूट्यूब देखकर घर पर ही दिया बच्‍चे को जन्‍म, पैरेंट्स को भी पता नहीं चला

Girl gives Birth with help of YouTube Videos: 17 साल की गर्भवती लड़की ने घर में ही यूट्यूब वीडियो देखकर बच्चे को जन्म दिया और इस बात की जानकारी उसके माता-पिता को भी नहीं थी.

17 साल की लड़की ने यूट्यूब देखकर घर पर ही दिया बच्‍चे को जन्‍म, पैरेंट्स को भी पता नहीं चला

तिरुवनन्तपुरम: केरल के मलाप्पुरम जिले में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जहां एक 17 साल की गर्भवती लड़की ने घर में ही यूट्यूब वीडियो देखकर बच्चे को जन्म (Girl gives Birth with help of YouTube Videos) दिया है. पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि लड़की ने 20 अक्टूबर को अपने घर में ही यूट्यूब देखकर बच्चे को जन्म दिया और उसका गर्भनाल काटा.

मां और बच्चा दोनों स्वस्थ

पुलिस ने बताया कि यह मामला केरल के मलाप्पुरम जिले के कोट्टाकल पुलिस थाने के अंतर्गत आया है. मां और बच्चे को इस समय मंजेरी के राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय और अस्पताल में भर्ती कराया गया है और दोनों स्वस्थ्य हैं. पुलिस ने बताया कि शुरुआती जांच में खुलासा हुआ कि उसने डिलीवरी के दौरान कोई बाहरी मदद नहीं ली है.

प्रेमी से गर्भवती हुई लड़की

पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि 17 वर्षीय लड़की प्रेमी से गर्भवती हुई थी. लड़की और पड़ोस में रहने वाले 21 वर्षीय लड़के के बीच बीते कुछ समय से प्रेम संबंध (Love Affair with 21-year-old Neighbour) चल रहा था, लेकिन लड़की गर्भवती हो गई. उन्होंने बताया कि लड़की की 18 साल उम्र होने पर दोनों की शादी करने की योजना थी.

ये भी पढ़ें- लंबे अर्से बाद एक-दूसरे को देख बेकाबू हुए पूर्व प्रेमी-प्रेमिका, कर गए कुछ ऐसा कि मच गया बवाल

लड़की के परिवार को नहीं थी जानकारी

लड़की के प्रग्नेंसी की जानकारी उसके माता-पिता को नहीं थी, क्योंकि वे दोनों अंधे हैं और देख नहीं सकते हैं. पुलिस ने बताया कि लड़की 12वीं क्लास में पढ़ती है और वह अपने दृष्टिबाधित माता-पिता से गर्भ छिपाने में सफल रही. लड़की के माता-पिता को घटना की जानकारी 22 अक्टूबर को तब हुई, जब उन्होंने बच्चे के रोने की आवाज सुनी.

पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज

पुलिस ने बताया कि लड़की और उसके बच्चे की देखभाल आरोपी का परिवार कर रहा है, लेकिन वह (पुलिस) इसे दुष्कर्म के मामले के तौर पर ले रही है क्योंकि उसकी उम्र केवल 17 साल है. पुलिस ने बताया कि दुष्कर्म के आरोपी को लैंगिक उत्पीड़न से बच्चों के संरक्षण का अधिनियम (पोक्सो) और भारतीय दंड संहिता की धारा-376 (दुष्कर्म) के तहत प्राथमिकी दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है.

Trending news