Loni Assault Case: जल्द गिरफ्तार होगा Ummed Pahalwan, की थी दंगा भड़काने की कोशिश

Loni Assault Case: जादुई ताबीज के सिलसिले में कुछ लोगों ने बुजुर्ग अब्दुल समद की पिटाई की थी और उसकी दाढ़ी काट दी थी. जिसके बाद उम्मेद पहलवान ने अब्दुल समद के साथ फेसबुक लाइव किया था और दंगा भड़काने की कोशिश की थी.

Loni Assault Case: जल्द गिरफ्तार होगा Ummed Pahalwan, की थी दंगा भड़काने की कोशिश
बाईं तरफ अखिलेश यादव और दाईं ओर उम्मेद पहलवान (फाइल फोटो) | फोटो साभार- फेसबुक

गाजियाबाद: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गाजियाबाद (Ghaziabad) में जादुई ताबीज के चक्कर में बुजुर्ग अब्दुल समद की दाढ़ी काटने के मामले में वीडियो बनाकर दंगा भड़काने की कोशिश करने के आरोपी और समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के नेता उम्मेद पहलवान को पुलिस (Police) जल्द गिरफ्तार कर सकती है.

उम्मेद को पकड़ने बुलंदशहर पहुंची पुलिस

बता दें कि गाजियाबाद पुलिस ने उम्मेद पहलवान को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान तेज कर दिया है. सूत्रों के मुताबिक, उम्मेद पहलवान पुलिस से बचने के लिए गुरुवार को गाजियाबाद से बुलंदशहर चला गया था. उसके पीछे गाजियाबाद पुलिस भी बुलंदशहर पहुंची थी. हालांकि मौके पर वह नहीं मिला.

ये भी पढ़ें- प्यार टेस्ट करने का अनोखा प्रयोग, कपल ने 123 दिन तक हर वक्त थामे रखा एक-दूसरे का हाथ

आरोपी उम्मेद पहलवान ने की दंगा भड़काने की कोशिश

जान लें कि कुछ लोगों ने जादुई ताबीज के सिलसिले में बुजुर्ग अब्दुल समद की पिटाई की थी और उसकी दाढ़ी काट दी थी. जिसके बाद उम्मेद पहलवान ने अब्दुल समद के साथ फेसबुक लाइव किया था और दंगा भड़काने की कोशिश की थी. फेसबुक लाइव में अब्दुल समद ने झूठ कहा कि जय श्री राम का नारा नहीं लगाने पर उसको मारा-पीटा गया और उसकी दाढ़ी काट दी गई. इसके बाद उम्मेद पहलवान ने भी दूसरे समुदाय को अंजाम भुगतने की धमकी दी थी.

बता दें कि अब्दुल समद की झूठी वीडियो को आधार बनाते हुए कई अन्य लोगों ने भी ट्विटर पर फेक न्यूज फैलाने की कोशिश की थी. जिसके बाद ट्विटर इंडिया समेत कई लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई. पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है.

ये भी पढ़ें- इस सीरियल किलर को खून देखना है पसंद, दूसरों को दर्द देने में आता है मजा

पुलिस में दर्ज हुई रिपोर्ट के मुताबिक, अब्दुल समद के साथ मारपीट करने वाले आरोपी सिर्फ एक समुदाय के नहीं थे, फिर भी इस मामले को सांप्रदायिक बताकर दंगा भड़काने की कोशिश की गई.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.