शिक्षक बन बच्चों के बीच पहुंचे SP साहब, बोले- कहानी की तरह याद करो पाठ

कांकेर जिले के पुलिस अधीक्षक कन्हैया लाल ध्रुव मरकाटोला के प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालय के बच्चों को पढ़ाने के लिए आए दिन स्कूल जाते हैं और वहां उन्हें पढ़ाते हैं.

शिक्षक बन बच्चों के बीच पहुंचे SP साहब, बोले- कहानी की तरह याद करो पाठ
स्कूल में बच्चों को पढ़ाते कांकेर जिले के पुलिस अधीक्षक कन्हैया लाल ध्रुव

(गौतम सरकार)/कांकेरः परीक्षाएं नजदीक आते ही स्टूडेंट्स की धड़कनें तेज होने लगती हैं, ऐसे में अगर कोई परीक्षा की तैयारी के लिए कोई खास टिप्स देने वाला मिल जाए तो क्या ही कहना. और जब ये टिप्स खुद एसपी साहब दें तो बच्चों की परीक्षा की तैयारी तो अच्छे से होना ही है. इन्हीं में से एक हैं कांकेर के एसपी, जो जिले के बच्चों को उनकी पढ़ाई में हेल्प करने के लिए फुर्सत के पल मिलते ही स्कूल पहुंच जाते हैं और वहां बच्चों को परीक्षा की तैयारी कराते हैं. कांकेर जिले के पुलिस अधीक्षक कन्हैया लाल ध्रुव मरकाटोला के प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालय के बच्चों को पढ़ाने के लिए आए दिन स्कूल जाते हैं और वहां उन्हें पढ़ाते हैं.

बोर्ड Exams के दौरान बच्चों पर न बनाएं अच्छे मार्क्स का दबाव और तनाव से रखें दूर

एसपी कन्हैया लाल ध्रुव ने यहां छात्रों को कविता गीत की तरह याद करने और पाठ्यक्रम को नाना-नानी, दादा-दादी की कहानी की तरह याद करने का गुर सिखाए. बच्चों ने भी बताया कि यह तरीका उन्हें बेहद पसंद आया और बहुत खुशी महसूस कर रहे हैं. दरअसल, हर बार की तरह इस बार भी एपीजे अब्दुल कलाम शिक्षा गुणवत्ता के अंतर्गत बच्चों के बीच एक दिन के लिए शिक्षक बन गए, इस दौरान एसपी ने बच्चों को पढ़ाने के साथ विज्ञान, गणित ,अंग्रेजी, हिंदी और सामान्य ज्ञान के सवाल भी पूछे.

Board Exams 2019: छात्र भूल कर भी न करें ये काम, बुरा हो सकता है अंजाम

वहीं सभी बच्चों को चॉकलेट,कलम देकर पुरूस्कृत भी किया. इसके आलावा एसपी ने बच्चों को खुद और आसपास के इलाके को स्वच्छ रखने सहित स्वास्थ्य के प्रति सजग रहने की सलाह भी दी. इसी के साथ अच्छी शिक्षा लेकर अपने परिवार और पूरे देश का नाम रोशन करने के लिए प्रोत्साहित किया. इस दौरान एसपी के सामने कुछ बच्चों ने बड़े होकर पुलिस अधिकारी प्रशासनिक अधिकारी और शिक्षक बनने की इच्छा भी जताई, जिस पर एसपी ने शुभकामनाएं देते हुए उनका मनोबल भी बढ़ाया.