छत्तीसगढ़ में अब पोषण अवॉर्ड को लेकर भिड़ी BJP-कांग्रेस, बोले- 'यह हमारी मेहनत का नतीजा'

छत्तीसगढ़ में अब पोषण अवॉर्ड को लेकर भिड़ी BJP-कांग्रेस, बोले- 'यह हमारी मेहनत का नतीजा'

कांग्रेस का कहना है, यह उनकी सरकार के पिछले कुछ महीने में किए गए प्रयासों का नतीजा है. वहीं बीजेपी का कहना है कि प्रदेश को यह अवॉर्ड बीजेपी की पूर्ववर्ती सरकार के किए गए कार्यों की वजह से वर्तमान सरकार को मिला है.

छत्तीसगढ़ में अब पोषण अवॉर्ड को लेकर भिड़ी BJP-कांग्रेस, बोले- 'यह हमारी मेहनत का नतीजा'

रायपुरः छत्तीसगढ़ शासन को केंद्र सरकार के जरिए कुपोषण में किए गए अलग-अलग स्तर पर विशेष कार्यों के लिए मिले अवॉर्ड को लेकर अब राजनीति शुरू हो गई है. जहां एक तरफ कांग्रेस का कहना है, यह उनकी सरकार के पिछले कुछ महीने में किए गए प्रयासों का नतीजा है. वहीं बीजेपी का कहना है कि प्रदेश को यह अवॉर्ड बीजेपी की पूर्ववर्ती सरकार के किए गए कार्यों की वजह से वर्तमान सरकार को मिला है. दोनों पार्टियों के अपने दावों को अलग किया जाए तो यह अच्छी बात है कि छत्तीसगढ़ को कुपोषण दूर करने के लिए अच्छे प्रयासों के लिए अवार्ड से नवाजा गया. पूर्व और वर्तमान की दोनों सरकारें अवॉर्ड को लेकर अपनी पीठ जरूर थपथपा रही हैं, लेकिन छत्तीसगढ़ की वर्तमान स्थिति में कुपोषण के जो आंकड़े हैं वह भी कम भयावह नहीं हैं.

आने वाले समय में अगर इसे दूर करने के लिए ठोस अभियान या कदम नहीं उठाए गए तो आगे स्थिति गंभीर हो सकती है. बता दें आज ही छत्तीसगढ़ को दिल्ली में अवार्ड दिया गया और आज ही प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने जन्मदिन के अवसर पर कुपोषण के खिलाफ NSUI के साथ मिलकर हल्ला बोला है. एनएसयूआई के कुपोषण मुक्ति अभियान की शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा भी कि कुपोषण को दूर करने के लिए सरकार हर संभव प्रयास करेगी और इसके जो आंकड़े हैं उसे कम करने की कोशिश करेगी.

देखें लाइव टीवी

आपको बता दें कि कुपोषण से मुक्ति के लिए ही चना वितरण भी एक सियासत का केंद्र बना हुआ है. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज ही चना वितरण कार्यक्रम का भी आयोजन किया, जिसे लेकर यह कहा जा रहा है कि सरकार अब फिर से सभी अंचलों में लोगों को चना का वितरण करेगी. हालांकि बीजेपी की तरफ से प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी का कहना है कि सरकार यह आरोप लगाती रही है कि चना वितरण उनकी सरकार में होता रहा है. पर वर्तमान की कांग्रेस सरकार पदभार संभालते ही इस योजना को बंद कर दिया था.

...जब नहीं मिला लोन, तो किसान ने लगाए पोस्टर 'किडनी बिकाऊ है'

कांग्रेस ने कुपोषण के मामले में मिले छत्तीसगढ़ के अवॉर्ड को लेकर सरकार की पीठ थपथपाई है. कांग्रेस का कहना है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिछले कुछ महीनों के प्रयासों के दौरान कुपोषण के लिए कई अभियान चलाए गए और इसी का यह नतीजा रहा इस सरकार को यह अवॉर्ड प्राप्त हुआ है. रहा सवाल बीजेपी का तो जो आंकड़े सामने आए हैं वह बीजेपी की ही देन है.

Trending news