राजस्थान, एमपी और छत्तीसगढ़ में नहीं तय हो पाए सीएम के नाम, समर्थकों ने मचाया हंगामा
topStories1rajasthan478958

राजस्थान, एमपी और छत्तीसगढ़ में नहीं तय हो पाए सीएम के नाम, समर्थकों ने मचाया हंगामा

कांग्रेस में राज्य के मुख्यमंत्री को लेकर दिल्ली में जारी विचार विमर्श के बीच करौली जिले में सचिन पायलट के समर्थकों ने सड़क जाम कर खूब हंगामा मचाया.

राजस्थान, एमपी और छत्तीसगढ़ में नहीं तय हो पाए सीएम के नाम, समर्थकों ने मचाया हंगामा

जयपुर: राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्रियों के नाम के निर्णय को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के घर चल रही मैराथन बैठक में अभी तक खींचतान जारी है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत और राजस्थान में कांग्रेस के युवा चेहरे सचिन पायलट मुख्यमंत्री पद के प्रबल दावेदार हैं. कहा जा रहा है कि इन दोनों में से ही किसी एक को मुख्यमंत्री बनाया जाना है. इन सबके बीच सीएम के नाम पर मुहर लगने में हो रही देरी से राजस्थान का माहौल बिगड़ता जा रहा है.  

करौली और दौसा में समर्थकों ने की रोड जाम और बस में तोड़-फोड़
कांग्रेस में राज्य के मुख्यमंत्री को लेकर दिल्ली में जारी विचार विमर्श के बीच करौली जिले में सचिन पायलट के समर्थकों ने सड़क जाम कर खूब हंगामा मचाया. वहीं, पायलट के समर्थकों द्वारा दौसा में बस में तोड़-फोड़ भी की गई है. करौली में पायलट के समर्थकों ने रोड जाम कर हंगामा खड़ा कर दिया. वहीं, बांदीकुई में भी कुछ युवक सचिन पायलट को सीएम बनाने की मांग को लेकर पानी की टंकी पर चढ़ गए.लोगों के हंगामा मचाने की खबर के बीच पायलट ने ट्विटर के जरिये अपने समर्थकों से शांति और अनुशासन बनाए रखने की अपील की है. 

लोगों को समझा-बुझाकर हटा दिया गया है- पुलिस
भरतपुर रेंज की महानिदेशक मालिनी अग्रवाल ने बताया कि हिंडौन में कुछ लोग इकट्ठा हुए और जाम लगाने की कोशिश की लेकिन हालात सामान्य है. वहीं, करौली के पुलिस नियंत्रण कक्ष के अनुसार नादौती, केमरी, महावीर जी व हिंडौन में कुछ लोग इकट्ठे हुए जिन्हें समझा बुझाकर हटा दिया गया. गौरतलब है कि पायलट व अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री पद की दौड़ में सबसे आगे माना जा रहा है. जयपुर में भी इनके समर्थकों ने पार्टी के प्रदेश मुख्यालय पर अपने अपने नेताओं के समर्थन में नारेबाजी की है.

भोपाल में आमने-सामने आए सिंधिया और कमलनाथ के समर्थक
मध्‍य प्रदेश विधानसभा चुनाव नतीजे (madhya pradesh elections result) के बाद आलाकमान की ओर से सीएम के पद के लिए नाम की घोषणा में देरी से कार्यकर्ताओं की नाराजगी बढ़ती जा रही है. मध्य प्रदेश में कमलनाथ के साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया भी सीएम पद की दौड़ में शामिल हैं. इस बीच भोपाल स्थित कांग्रेस कार्यालय में कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिंया के समर्थकों ने हंगामा किया. प्रदेश कांग्रेस दफ्तर के बाहर कमलनाथ और सिंधिया समर्थकों के बीच जमकर नारेबाजी भी हुई.

रायपुर में बघेल और सिंहदेव के समर्थकों में मारपीट
वहीं, छत्तीसगढ़ में भी भोपाल की तरह ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल के घर के सामने बघेल और त्रिभुवन सिंह देव के समर्थको में हाथापाई हो गई. भूपेश बघेल के बंगले में दो गुट आपस में भिड़ गए. बताया जा रहा है कि एक कार्यकर्ता द्वारा गाली दिए जाने को लेकर विवाद हुआ था. इसके बाद समर्थकों के बीच हाथापाई हो गई. हालांकि, उस समय भूपेश बघेल घर पर मौजूद नहीं थे. 

बता दें कि राजस्थान में सीएम पद के लिए अशोक गहलोत और सचिन पायलट प्रबल दावेदार हैं. मध्य प्रदेश में कमलनाथ के साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया सीएम पद के रेस में शामिल हैं. वहीं, छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल और टीएस सिंहदेव के बीच सीएम पद के लिए मुकाबला चल रहा है.

Trending news