31 जनवरी को होगी सीटेट की परीक्षा, जान लें एग्जाम पैटर्न, नहीं तो होगा नुकसान

सीबीएसई सीटेट की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों के पास इस समय परीक्षा के लिए 2 महीने का समय बचा है. ऐसे में अभ्यर्थी अगर 2 महीने का सदुपयोग कर लें, तो वे सीटेट (CTET) की परीक्षा आसानी से निकाल सकते हैं. लेकिन उसके लिए अभ्यर्थियों को सबसे पहले एग्जाम पैटर्न जानना होगा. अगर एग्जाम पैटर्न अभ्यर्थी सही से जान गए तो परीक्षा की तैयारी करना आसान हो जाएगा. 

31 जनवरी को होगी सीटेट की परीक्षा, जान लें एग्जाम पैटर्न, नहीं तो होगा नुकसान
सांकेतिक तस्वीर

नीरज कुमार यादव/भोपाल: सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) की तरफ से सीटेट (CTET) 2020 की परीक्षा देशभर के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर 31 जनवरी 2021 को आयोजित की जाएगी. परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड ऑफिशियल वेबसाइट पर दिसंबर के आखिरी सप्ताह या फिर जनवरी के पहले सप्ताह में जारी किया जाएगा.

Corona से New Year पार्टी का मजा होगा फीका, वाटर पार्क संचालकों का इंतजार बढ़ा

सीबीएसई सीटेट की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों के पास इस समय परीक्षा के लिए 2 महीने का समय बचा है. ऐसे में अभ्यर्थी अगर 2 महीने का सदुपयोग कर लें, तो वे सीटेट (CTET) की परीक्षा आसानी से निकाल सकते हैं. लेकिन उसके लिए अभ्यर्थियों को सबसे पहले एग्जाम पैटर्न जानना होगा. अगर एग्जाम पैटर्न अभ्यर्थी सही से जान गए तो परीक्षा की तैयारी करना आसान हो जाएगा. 

Alert: इंटरनेट से मिला फेक कस्टमर केयर नंबर, फोन किया तो कट गए 1 लाख रुपए!

CTET Exam Pattern:सीटेट एग्जाम पैटर्न
सीटेट परीक्षा दो लेवल के लिए आयोजित की जाती है. पहला पेपर प्राइमरी स्टेज और दूसरा पेपर एलिमेंट्री स्टेज के लिए होता है. दोनों पेपर में 150-150 सवाल पूछे जाएंगे. अगर अभ्यर्थी कक्षा 1- 8 तक पढ़ाना चाहता है, तो उसे दोनों पेपरों में शामिल होना होगा. जबकि कोई अभ्यर्थी कक्षा 1 से 5 तक पढ़ाने लिए आवेदन किया है तो उसे पेपर-1 की परीक्षा देनी होगा. 

यूजीसी नेट जून 2020 एग्जाम रिजल्ट जारी, यहां देखें स्कोरकार्ड @ugcnet.nta.nic.in

पेपर-1 में 5 सेक्शन होते हैं, वहीं पेपर-2 में चार सेक्शन होते हैं. अभ्यर्थियों को पेपर-2 में मैथ्स, साइंस और सोशल स्टडीज में एक विषय चुनना होता है. सीटेट की परीक्षा पास करने के लिए अभ्यर्थियों को कम से कम 60 प्रतिशत अंक लाना होता है.

2 घंटे 30 मिनट के लिए आयोजित होता है एग्जाम
सीटेट (CTET) के दोनों पेपर  2 घंटे 30 मिनट के लिए आयोजित होते हैं. दोनों पेपर में मल्टीपल चॉइस सवाल पूछे जाएंगे.

Video: इंदौर पुलिस की दादागिरी, पहले चोरी फिर सीना जोरी

क्या है सीटेट?
सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट यानी कि सीटेट की परीक्षा केंद्रीय विद्यालयों में शिक्षक बनने के लिए पास करना जरूरी होता है. बिना सीटेट की परीक्षा पास किए कोई भी अभ्यर्थी केंद्रीय विद्यालय में निकलने वाली भर्तियों के लिए आवेदन नहीं कर सकता है. सीटेट का सर्टिफिकेट 9 वर्षों तक वैलिड रहता है.

रायपुर AIIMS में सीनियर रेजिडेंट के पदों पर निकली भर्ती, 3 दिसंबर से करें अप्लाई

VIDEO: दो पैर वाले देसी डॉग को लंदन के शख्स ने लिया गोद, इलाज के लिए 18 नवंबर को जाएगा समंदर पार​

Video: आज से धान की खरीदी करेगी छत्तीसगढ़ सरकार, 21 लाख किसानों ने कराया रजिस्ट्रेशन​

Video: फटाफट अंदाज में देखिए आज की 80 जिलों की 80 बड़ी खबरें​

Watch Live TV-