close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

MP के गृह मंत्री ने आपातकाल विरोधी संकल्प को लेकर भाजपा विधायक का अनुरोध नकारा

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री बाला बच्चन ने भाजपा विधायक पर निशाना साधते हुए कहा, "राजनीतिक ड्रामे वाली ऐसी फालतू बातों का किसी भी व्यक्ति के लिये कोई महत्व नहीं है." 

MP के गृह मंत्री ने आपातकाल विरोधी संकल्प को लेकर भाजपा विधायक का अनुरोध नकारा
भाजपा विधायक रमेश मेंदोला ने जिला योजना समिति की बैठक के अंत में आपातकाल विरोधी संकल्प लेने का अनुरोध किया. लेकिन इस गुजारिश को कोई तवज्जो दिये बगैर बैठक समाप्त कर दी गयी.

इंदौर: मध्य प्रदेश के गृह मंत्री बाला बच्चन की अध्यक्षता में इंदौर में हुई एक बैठक में एक स्थानीय भाजपा विधायक ने मंगलवार को अनुरोध किया कि इस बात का संकल्प लिया जाये कि देश में आपातकाल जैसी स्थिति दोबारा उत्पन्न नहीं होने दी जायेगी. लेकिन इस अनुरोध को "सियासी ड्रामे से प्रेरित" करार देते हुए अस्वीकार कर दिया गया. वर्ष 1975 में लगाये गये आपातकाल के 44 साल पूरे होने के मौके पर शहर के क्षेत्र क्रमांक-दो के भाजपा विधायक रमेश मेंदोला ने जिला योजना समिति की बैठक के अंत में आपातकाल विरोधी संकल्प लेने का अनुरोध किया. लेकिन इस गुजारिश को कोई तवज्जो दिये बगैर बैठक समाप्त कर दी गयी. 

जिले के प्रभारी मंत्री की हैसियत से बच्चन इस बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे. इस बैठक में राज्य के लोक स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट, उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी, अन्य स्थानीय जन प्रतिनिधि और अलग-अलग विभागों के आला सरकारी अधिकारी मौजूद थे. आपातकाल विरोधी संकल्प लेने के मेंदोला के अनुरोध के बारे में पूछे जाने पर बच्चन ने संवाददाताओं से कहा, "ऐसे अनुरोध को भला कौन तवज्जो देगा. न तो यह अनुरोध जिला योजना समिति की बैठक के एजेंडा में शामिल था, न ही इस पर किसी ने ध्यान दिया." 

उन्होंने भाजपा विधायक पर निशाना साधते हुए कहा, "राजनीतिक ड्रामे वाली ऐसी फालतू बातों का किसी भी व्यक्ति के लिये कोई महत्व नहीं है." उधर, मेंदोला ने कहा, "आपातकाल विरोधी संकल्प लिये जाने का मेरा अनुरोध देश की अभिव्यक्ति की आजादी और नागरिकों के बुनियादी अधिकारों के पक्ष में था. लेकिन बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि सूबे के तीन-तीन मंत्रियों की मौजूदगी वाली बैठक में इस अनुरोध के पीछे मेरे सकारात्मक भाव को समझा नहीं गया."