खरगोन में यूपी जैसी घटना, पानी पीने के बहाने रेकी की, आधी रात आए और नाबालिग को उठा ले गए

मध्य प्रदेश के खरगोन में 15 वर्षीय नाबालिग किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म. तीन आरोपी रात में पानी पीने खेत पर आए और लड़की को उठा ले गए. लड़की और उसके भाई के साथ की मारपीट. भाई ने किसी तरह भागकर बचाई जान. ग्रामीण पहुंचे तब तक फरार हुए आरोपी.

खरगोन में यूपी जैसी घटना, पानी पीने के बहाने रेकी की, आधी रात आए और नाबालिग को उठा ले गए

राकेश जायसवाल/खरगोन: मध्य प्रदेश के खरगोन में भी उत्तर प्रदेश के हाथरस जैसी वारदात सामने आई है. यहां भी एक नाबालिग किशोरी बदमाशों की हवस का शिकार हो गई. पानी पीने के बहाने आए तीन बदमाश लड़की को उठा ले गए और फिर उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया. यहां भी पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं. परिजनों का आरोप है कि शिकायत के बाद भी पुलिस करीब डेढ़ घंटे बाद मौके पर पहुंची.

दरअसल, यह मामला जिला मुख्यालय से 55 किमी दूर झिरन्या थाना क्षेत्र के मारुगढ़ में दिलीप के खेत की रखवाली कर रही 15 वर्षीय किशोरी के साथ हुई. किशोरी के साथ उसका भाई भी था. बदमाश आधी रात को खेत में पानी पीने के बहाने आए. पानी के बहाने उन्होंने रेकी की. फिर पानी पीकर लौट गए. इसके कुछ देर बाद लौटे और किशोरी व उसके भाई के साथ मारपीट कर नाबालिग को उठाकर ले गए. इसके बाद किशोरी के साथ तीनों ने गैंग रेप किया. इसके बाद भाई ग्रामीणों के साथ पहुंचा तो तीनों आरोपी भाग खड़े हुए. 

बाबरी विध्वंस मामला: 'मस्जिद तोड़ने वाले पाकिस्तान से आए होंगे, इसलिए जांच एजेंसियां नहीं जुटा पाईं सबूत'

पीड़ित लड़की के भाई ने बताया तीन लोग एक बाइक से पानी मांगने आये. फिर शराब मांगी मेरे पास नहीं थी तो चले गए. थोड़ी देर बाद आये और मुझसे मारपीट कर बहन (नानी) को उठा ले गए और उसकी इज्जत लूट ली. वारदात के बाद उसके भाई ने पुलिस को शिकायत करनी चाही. लेकिन पुलिस पर आरोप है कि वह काफी देरी से मौका-ए-वारदात पर पहुंची. लड़की के भाई ने बताया कि उसने और खेत मालिक ने डायल 100 को तुरंत सूचना दी थी. पर पुलिस जल्दी नहीं पहुंची.

एसपी शैलेन्द्र सिंह ने पुलिस टीम के साथ घटना स्थल एंव रेप स्थानों पर पीड़िता के साथ पहुंचकर पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली. एसपी ने बताया पीड़िता ने तीन लोगों द्वारा उसके साथ रेप करना बताया है. मीडिया द्वारा 100 डायल को पीड़िता, खेत मालिक एवं उसके भाई द्वारा मोबाइल से मदद मांगने के बाद भी पुलिस डेढ़ घंटे लेट पहुंचने के सवाल पर बताया मोबाइल डिटेल देखकर यदि पुलिस देरी से पहुंची है तो संबंधितों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

WATCH LIVE TV