मध्य प्रदेश विधानसभा: मतदान का शोर खत्म, चुनाव की 10 प्रमुख बातें

मध्य प्रदेश में पिछले 15 सालों से शिवराज सिंह चौहान की सरकार है. अगर , 11 दिसंबर को नतीजे उनके पक्ष में आते हैं तो शिवराज सिंह चौथी बार  मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री बनेंगे.

मध्य प्रदेश विधानसभा: मतदान का शोर खत्म, चुनाव की 10 प्रमुख बातें
फोटो साभार : ANI

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश में मतदान का समय समाप्त हो चुका है, लेकिन अभी भी उन मतदाताओं को वोट डालने दिया जा रहा है जो पहले से लाइन में लगे हुए हैं. 6 बजे तक 74.46 फीसदी मतदान हुआ था. मतदाता अभी भी लाइन में लगे हैं, इसलिए मतदान फीसदी में बढ़ोतरी होगी. इधर, मध्य प्रदेश के मुख्य चुनाव अधिकारी वीएल कांठा राव ने कहा कि 883 बैलेट यूनिट और 881 कंट्रोल यूनिट को रिप्लेस किया गया. शिकायत मिलने के बाद 2126 वीवीपैट (VVPAT) मशीनों को भी बदला गया.

चुनाव की 10 प्रमुख बातें

1. गुना के बमौरी में परांठ गांव पोलिंग बूथ पर पीठासीन अधिकारी सोहनलाल बाथम की हार्ट अटैक से मौत हो गई. वहीं, इंदौर विधानसभा-5 के दीपिका बाल मंदिर नेहरू नगर के पीठासीन अधिकारी कैलाश पटेल समेत दो पीठासीन अधिकारियों की हार्ट अटैक से मौत हो गई. 

2. मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले की 3 विधानसभा सीटों पर सुबह 7 बजे से 3 बजे तक ही वोटिंग हुई. बाकी 227 सीटों पर पांच बजे तक वोटिंग हुई.

3. चुनाव के दौरान 70 EVM मशीनों को लेकर शिकायत मिले जिसे बाद में बदल दिया गया.

4.मंदसौर की गरोठ विधानसभा के खेरखेड़ा भाट गांव में 3:20 बजे मतदान शुरू हो पाया. मूलभूत सुविधाओं को लेकर ग्रामीण वोट डालने नहीं गए थे. अधिकारियों द्वारा समझाने के बाद यहां मतदान शुरू हुआ.

5.भिंड की लहार विधानसभा में उपद्रवियों ने उत्पात मचाते हुए मछंड पोलिंग बूथ पर कब्जा कर लिया. हंगामे के दौरान यहां फायरिंग का भी मामला सामने आया. कुछ जगहों पर अराजक तत्वों द्वारा मशीन तोड़ें जाने की शिकायतें मिलीं जिसकी वजह से कुछ देर के लिए मतदान प्रभावित हुआ.

6.नक्सल प्रभावित तीन विधानसभा सीटों पर बंपर वोटिंग हुई है. बैहर में 78.05 प्रतिशत, लांजी में 79.07 प्रतिशत और परसवाड़ा में 80.05 प्रतिशत. इन इलाकों में 813 बैलेट यूनिट बदली गई हैं. बुधवार के चुनाव में 2126 वीवीपैट मशीनें बदली गईं.

7.मध्य प्रदेश में कांग्रेस नेता कमलनाथ द्वारा वोट डालने के बाद हाथ दिखाने पर बवाल हो गया. जिसपर उन्होंने कहा कि जब लोगों ने मुझसे पूछा कि उन्होंने किसे वोट दिया तो मैंने अपना हाथ दिखाया. इससे अलग मैं क्या करता, क्या मैं कमल दिखाता? दरअसल,कांग्रेस के हाथ दिखाने के कारण बीजेपी ने चुनाव चिन्ह दिखाने की शिकायत की थी.

8.अटेर से बीजेपी प्रत्याशी अरविंद भदौरिया और कांग्रेस प्रत्याशी हेमंत कटारे को सर्किट हाउस में नजरबंद कर रखा गया. उनके अलावा लहार से कांग्रेस उम्मीदवार डॉ. गोविंद सिंह और बीजेपी प्रत्याशी रसाल सिंह को लहार रेस्ट हाउस में मतदान होने तक नजरबंद रखा गया. 

9.भिंड विधानसभा के बीजेपी उम्मीदवार चौधरी राकेश चौधरी सिंह चतुर्वेदी, समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी नरेंद्र सिंह कुशवाह को भी शहर के सर्किट हाउस में शाम तक नजरबंद रखा गया.

10.सीएम शिवराज सिंह चौहान ने पत्नी साधना सिंह के साथ अपने गांव जैत में मतदान किया. इससे पहले बीजेपी नेता शिवराज सिंह ने पत्नी और बेटों के साथ अपने पैतृक गांव जैत में दर्शन-पूजन कर प्रदेशवासियों के कल्याण, सुख और समृद्धि की कामना की.