CAA के विरोध में कांग्रेस का पैदल मार्च, CM कमलनाथ ने कहा 'हम संविधान के साथ खिलवाड़ नहीं होने देंगे'

सीएम कमलनाथ ने कहा कि मैंने अपने संसदीय जीवन में संविधान का उल्लंघन करने वाला ऐसा कानून नहीं देखा. इस कानून का उपयोग कम और दुरुपयोग ज्यादा होगा

CAA के विरोध में कांग्रेस का पैदल मार्च, CM कमलनाथ ने कहा 'हम संविधान के साथ खिलवाड़ नहीं होने देंगे'
CM कमलनाथ ने कहा 'हम संविधान के साथ खिलवाड़ नहीं होने देंगे'

भोपाल: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में बुधवार को कांग्रेस ने CAA (नागरिकता संशोधन कानून) और NRC (राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर) के विरोध में शांति मार्च निकाला. इसका नेतृत्व खुद सूबे के मुख्यमंत्री कमलनाथ (CM KamalNath) ने किया.

रोशनपुरा चौराहे से शुरू हुई कांग्रेस की 'संविधान बचाओ न्याय शांति यात्रा’ मिंटो हाल जाकर खत्म हुई. इस दौरान सीएम कमलनाथ के साथ उनकी कैबिनेट के मंत्री और कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे. पैदल मार्च में हजारों की संख्या में लोग गांधी टोपी पहनकर और हाथों में तिरंगा लेकर निकले. इस दौरान CAA और NRC को लेकर केन्द्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई.

हम संविधान के साथ खिलवाड़ नहीं होने देंगे- सीएम कमलनाथ

मिंटो हाल में महात्मा गांधी की मूर्ति पर श्रद्धा सुमन अर्पित कर धरना दिया गया. यहां सीएम कमलनाथ ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि ये शांति मार्च नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ था. हम संविधान के साथ खिलवाड़ नहीं होने देंगे. सीएम ने कहा कि अनेकता में एकता भारत की संस्कृति है और ये ही कांग्रेस की भी संस्कृति है. सीएम ने कहा कि मैंने अपने संसदीय जीवन में संविधान का उल्लंघन करने वाला ऐसा कानून नहीं देखा. इस कानून का उपयोग कम और दुरुपयोग ज्यादा होगा.

उधर, जबलपुर में राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने कहा कि महात्मा गांधी सदी के सबसे बड़े महापुरूष थे, जब तक देश उनके आदर्शों पर चलेगा तब तक देश की एकता और अखंडता बनी रहेगी. भाजपा द्वारा गांधी संदेश पदयात्रा का विरोध करने के सवाल पर विवेक तन्खा ने कहा कि BJP कभी गांधी जी का विरोध नहीं कर सकती क्योंकि उनमें हिम्मत नहीं है, देश में जो भी पार्टी गांधी जी का विरोध करेगी, वो देश में नहीं रह पाएगी.

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर ने कांग्रेस के पैदल मार्च पर निशाना साधा

उधर, ग्वालियर में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने CAA और NRC को लेकर कांग्रेस के पैदल मार्च पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि दुनिया जानती है, CAA नागरिकता देने का कानून है, लेने का नहीं है. वहीं, NRC घुसपैठियों के खिलाफ है. अब कांग्रेस शरणार्थी और घुसपैठियों में अंतर नहीं कर पाती, ये उसका मानसिक दिवालियापन है.

वहीं NPR पर तोमर ने कहा कि नेशनल पापुलेशन रजिस्टर हर 10 साल में तैयार होता है. इस बार भी सरकार NPR तैयार कर रही है, लेकिन कांग्रेस देश को गुमराह करने का पाप कर रही है. आने वाले समय में कांग्रेस को इस बात का खामियाजा भुगतना होगा. 
CM कमलनाथ के मार्च पर तंज कसते हुए नरेंद्र तोमर ने कहा कि MP में कांग्रेस ने कर्ज माफ नहीं किया और विकास भी नहीं कर पा रही है. यही वजह है कि जनता का ध्यान हटाने के लिए कांग्रेस कहीं बिल्डिंग तोड़ रही, तो कहीं मार्च निकाल रही है.