close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्य प्रदेशः क्या राजधानी भोपाल का होने वाला है बंटवारा? शहर को 2 हिस्सों में बांटने का ड्राफ्ट जारी

14 अक्टूबर तक दावे, आपत्ति और सुझाव लिए जाएंगे. इसके बाद इसे मंजूरी के लिए सरकार को भेजा जाएगा. राज्यपाल की अनुमति मिलने पर ही दो निकायों के गठन की अंतिम अधिसूचना जारी होगी.

मध्य प्रदेशः क्या राजधानी भोपाल का होने वाला है बंटवारा? शहर को 2 हिस्सों में बांटने का ड्राफ्ट जारी
(फोटो साभारः Twitter/@tanuj_garg)

लोकेंद्र त्यागी, भोपालः मध्यप्रदेश में नगर निगम चुनाव से पहले भोपाल शहर को दो हिस्सों में बांटने की कवायद तेज हो गई है. सोमवार रात भोपाल कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने भोपाल नगर निगम को भोपाल ईस्ट और भोपाल वेस्ट में बांटने का ड्राफ्ट जारी किया. प्रस्तावित भोपाल ईस्ट नगर निगम में 31 वार्ड होंगे जबकि भोपाल वेस्ट में 54 वार्ड होंगे. जिला प्रशासन ने प्रस्तावित ड्राफ्ट पर दावे, आपत्ति के लिए 7 दिन की समय सीमा तय की है. 14 अक्टूबर तक दावे, आपत्ति और सुझाव लिए जाएंगे. इसके बाद इसे मंजूरी के लिए सरकार को भेजा जाएगा. राज्यपाल की अनुमति मिलने पर ही दो निकायों के गठन की अंतिम अधिसूचना जारी होगी.

ऐसे होगा बंटवारा
वेस्ट भोपाल
54 वार्ड
12,13,430 जनसंख्या
185.23 क्षेत्रफल वर्ग किमी

देखें LIVE TV

पूर्वी भोपाल
31 वार्ड
7,08,700 जनसंख्या
232.61 क्षेत्रफल वर्ग किमी

मंत्री जीतू पटवारी बोले- बयान पर नहीं मांगी है माफी, पटवारियों ने फिर शुरू की हड़ताल

बंटवारे से पहले इन सवालों के जवाब अहम
पेयजल सप्लाई और कचरा खंती जैसी सुविधाओं का बंटवारा कैसे होगा ? क्या कोलार तहसील का पुनर्गठन होगा क्योंकि इसका कुछ क्षेत्र पूर्वी भोपाल में और कुछ पश्चिमी भोपाल में आता है, ऐसे में एक तहसील दो निकायों में बंट जाएगी? केंद्र सरकार की स्मार्ट सिटी, प्रधानमंत्री आवास, अमृत योजना जैसी सुविधाओं का लाभ पूरे शहर को कैसे मिलेगा ? निगम के लोन और म्युनिसिपल बॉन्ड का बंटवारा कैसे होगा ?

MP में फिर दहाड़ा 'एशियाटिक लॉयन' का मुद्दा, वन मंत्री उमंग सिंघार ने कही ये बड़ी बात

पहले भी हुआ था विरोध
कांग्रेस सरकार बनने के बाद वार्ड नंबर 80 से 85 को भोपाल नगर निगम से अलग करने की अधिसूचना जारी हुई थी. कोलार के 6 वार्डों को अलग कर नपा गठित करने के लिए जारी अधिसूचना पर 100 आपत्तियां आईं थीं. इनमें से ज्यादातर ने विभाजन का विरोध किया था. जिसके बाद नगरीय आवास एवं विकास मंत्री जयवर्धन सिंह ने कोलार नपा गठन को नामंजूर कर दिया था. इसके बाद दो नगर निगम की कवायद शुरू हुई. तीन अलग-अलग सुझावों पर चर्चा के बाद जिला कांग्रेस ने पूर्वी भोपाल और पश्चिमी भोपाल नगर निगम के गठन का प्रस्ताव दिया था.