close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राहुल गांधी ने मोहन मरकाम को सौंपी छत्तीसगढ़ की कमान, बनाए गए नए कांग्रेस अध्यक्ष

 छत्तीसगढ़ में अभी तक राज्य के कांग्रेस अध्यक्ष की जिम्मेदारी प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल के कंधों पर थी, ऐसे में अब जब मोहन मरकाम को यह पद सौंप दिया गया है.

राहुल गांधी ने मोहन मरकाम को सौंपी छत्तीसगढ़ की कमान, बनाए गए नए कांग्रेस अध्यक्ष
बस्तर की कोंडागांव विधानसभा सीट से दो बार से विधायक हैं मोहन मरकाम (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः छत्तीसगढ़ में लंबे समय से कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चेहरे की तलाश में थी. ऐसे में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोहन मरकाम को प्रदेश कांग्रेस समिति का अध्यक्ष नियुक्त किया है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोहन मरकाम को तत्काल प्रभाव से यह जिम्मेदारी सौंपी ही. बता दें छत्तीसगढ़ में अभी तक राज्य के कांग्रेस अध्यक्ष की जिम्मेदारी प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल के कंधों पर थी, ऐसे में अब जब मोहन मरकाम को यह पद सौंप दिया गया है तो मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को इसकी जिम्मेदारियों से मुक्त कर दिया गया है.

बता दें छत्तीसगढ़ में कांग्रेस आदिवासी चेहरे की तलाश में थी. जिसके चलते पार्टी मोहन मरकाम और मनोज मंडावी के नाम पर विचार कर रही थी. मोहन मरकाम छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग की कोंडागांव सीट से दो बार से विधायक हैं. वहीं पहले इस पद के लिए सरगुजा के कद्दावर नेता अमरजीत का नाम लिस्ट में सबसे आगे था. अध्यक्ष पद के लिए अमरजीत का नाम लगभग तय भी माना जा रहा था, लेकिन बदले राजनीतिक समीकरणों के बाद पार्टी ने अपना रुख बदल लिया और बीते 24 मई को मोहन मरकाम और मनोज मंडावी को दिल्ली बुलाया गया. जहां कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दोनों नेताओं से मुलाकात की. इस दौरान प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया भी मौजूद रहे.

छत्तीसगढ़: मंत्रियों को नए सिरे से सौंपी गई जिलों की कमान, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया बदलाव

कागजों पर सिमटी छत्तीसगढ़ सरकार की कर्ज माफी योजना, खत्म नहीं हो रही किसानों की परेशानी

मिली जानकारी के मुताबिक मीटिंग के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दोनों विधायकों से कई सवाल पूछे, जिसके बाद मोहन मरकाम को छत्तीसगढ़ पीसीसी चीफ बनाने के नाम पर सहमति हुई. वहीं इस मीटिंग के बाद जब दोनों विधायकों से इसके बारे में सवाल पूछे गए थे तो दोनों ही नेताओं का कहना था कि इस मामले में जो भी फैसला होगा वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का होगा और इससे संबंधित किसी भी फैसले की भी घोषणा वह ही करेंगे.