गैस सब्सिडी चेक करने गई थी बैंक, अकाउंट में पड़े थे लाखों रुपये, मामला जान रह जाएंगे हैरान

इसकी पुष्टि इस बात से हुई कि उसके अकाउंट में जो मोबाइल नंबर लिख किया गया है, वह अज्ञात गुप्ता का है. 

गैस सब्सिडी चेक करने गई थी बैंक, अकाउंट में पड़े थे लाखों रुपये, मामला जान रह जाएंगे हैरान
(फाइल फोटो)

शैलेन्द्र सिंह भदौरिया/ग्वालियर: ग्वालियर की कोतवाली थाना पुलिस ने पिनेकल कोचिंग क्लासेस के संचालक अज्ञात गुप्ता के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है. कोचिंग संचालक पर आरोप है कि 2016 में नोटबंदी के दौरान उन्होंने अपने यहां काम करने वाली बाई का गुपचुप तरीके से बैंक में अकाउंट खुलवा कर उसमें लाखों रुपए का ट्रांजैक्शन किया था. मामला दर्ज करने के साथ ही कोतवाली थाना प्रभारी ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को भी इस संबंध में अवगत करा दिया है ताकि, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को सूचना देकर उन पर कार्यवाही की जा सके.

दरअसल, अज्ञात गुप्ता के यहां काम करने वाली बाई कलावती प्रजापति ने जब गैस सब्सिडी की जानकारी के लिए गैस एजेंसी पहुंची थी. इस दौरान उसे पता चला कि उसकी सब्सिडी एसबीआई में उसके खाते में जा रही है. गैस एजेंसी से खाता नंबर लेकर जब वह बैंक पहुंची तो, पता चला कि उसके अकाउंट में सब्सिडी के साथ-साथ लगभग 5 लाख 54 हजार जमा हैं. इसके बाद वह सीधे कोतवाली थाने पहुंची और उसने बताया कि ये खाता उसके द्वारा नहीं खुलवाया गया है बल्कि, उसके मालिक अज्ञात गुप्ता द्वारा फर्जी तरीके से खाता खुलवाया है.

इसकी पुष्टि इस बात से हुई कि उसके अकाउंट में जो मोबाइल नंबर लिख किया गया है, वह अज्ञात गुप्ता का है. थाना प्रभारी विवेक अष्ठाना ने बताया है कि पुलिस ने मामला दर्ज कर अकाउंट ट्रांजैक्शन की डिटेल मंगवाई है. इसके साथ ही उनके यहां काम करने वाले अन्य लोगों से भी पुलिस पूछताछ करेगी. ताकि, इस बात का खुलासा हो सके कि नोटबंदी के दौरान अज्ञात गुप्ता ने क्या कुछ अन्य लोगों के नाम से सेविंग खाते खोलकर इनकम टैक्स में हेरफेर की है.