महिला हॉकी टीम को सम्मानित करेंगे CM शिवराज, ओलंपिक में शामिल प्रत्येक खिलाड़ी को देंगे इतने-इतने लाख का चेक
X

महिला हॉकी टीम को सम्मानित करेंगे CM शिवराज, ओलंपिक में शामिल प्रत्येक खिलाड़ी को देंगे इतने-इतने लाख का चेक

अर्जेंटीना से हुए सेमीफाइनल मुकाबले में भारतीय टीम ने साहसिक खेल दिखाया, लेकिन 1-2 से मुकाबला हार गए. टीम भले ही चौथे स्थान पर रही, लेकिन उनके प्रदर्शन ने देश को इंटरनेशनल स्टेज पर गौरवान्वित किया.

महिला हॉकी टीम को सम्मानित करेंगे CM शिवराज, ओलंपिक में शामिल प्रत्येक खिलाड़ी को देंगे इतने-इतने लाख का चेक

भोपालः मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) 28 सितंबर को दोपहर 12 बजे मिंटो हॉल में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे. यहां वह टोक्यो ओलंपिक 2020 में शानदार प्रदर्शन कर चौथे स्थान पर रहने वाली भारतीय महिला हॉकी टीम (Indian Women Hockey Team) को सम्मानित करेंगे. टीम की प्रत्येक खिलाड़ी को प्रोत्साहन राशि के रूप में 31 लाख रुपये दिए जाएंगे. 

बता दें कि भारतीय महिला हॉकी टीम ने इस साल जापान में आयोजित ओलंपिक खेलों में शानदार प्रदर्शन करते हुए चौथा स्थान हासिल किया था. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया जैसी मजबूत टीम को क्वार्टर फाइनल में हराकर बाहर किया था. तभी CM शिवराज ने इन बेटियों को सम्मानित करने की घोषणा कर दी थी. 

MP हॉकी अकादमी की पांच खिलाड़ी थीं शामिल
टोक्यो ओलंपिक 2020 में शानदार प्रदर्शन करने वाली महिला हॉकी टीम में मध्य प्रदेश राज्य महिला हॉकी अकादमी से ट्रेनिंग लेने वाली पांच खिलाड़ी शामिल थीं. इनमें सुशीला चानू, रीना खोखर, मोनिका, रजनी और वंदना कटारिया ने इंटरनेशनल लेवल पर देश और प्रदेश का नाम रोशन किया. 

यह भी पढ़ेंः- दिग्विजय सिंह के RSS पर दिए बयान पर कैलाश विजयवर्गीय हुए नाराज, लादेन को लेकर पूछी ये बात

इन्हें मिलेगी प्रोत्साहन राशि
ओलंपिक में शामिल होने वाली भारतीय टीम कुछ इस प्रकार थी, जिन्हें अब CM शिवराज द्वारा सम्मानित किया जाएगा. 

रानी रामपाल (कप्तान), सविता पूनिया, दीप ग्रेस एक्का, निशा, गुरजीत कौर, सलीमा टेटे, उदिता, मोनिका, निक्की प्रधान, नेहा, पी सुशीला चानू, वंदना कटारिया, नवनीत कौर, नवजोत कौर, शर्मिला देवी, लालरेमसियामी, ई रजनी, रीना खोकर और नमिता टोप्पो.

ऑस्ट्रेलिया को किया था बाहर
भारतीय टीम ने ओलंपिक के 41 साल के महिला हॉकी इतिहास में अब तक का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन किया. टीम पहली बार सेमीफाइनल तक पहुंची और ब्रॉन्ज मेडल मैच में इंग्लैंड के खिलाफ 3-4 के करीबी अंतर से हार गई. लेकिन उनके प्रदर्शन ने पूरे देश का सीना गर्व से चौड़ा कर दिया.

लीग फेज में शुरुआती मैच हारने के बाद भारतीय टीम ने कमबैक किया, उन्होंने आयरलैंड और साउथ अफ्रीका को हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई. फिर क्वार्टर फाइनल मुकाबले में ओलंपिक और विश्व चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को 1-0 से हराकर टूर्नामेंट से ही बाहर कर दिया. अर्जेंटीना से हुए सेमीफाइनल मुकाबले में भारतीय टीम ने साहसिक खेल दिखाया, लेकिन 1-2 से मुकाबला हार गए. टीम भले ही चौथे स्थान पर रही, लेकिन उनके प्रदर्शन ने देश को इंटरनेशनल स्टेज पर गौरवान्वित किया. 

यह भी पढ़ेंः- सीएम शिवराज आज देंगे कई सौगात, बिजली उपकेंद्रों के साथ एक क्लिक पर खातों में डाले जाएंगे 321 करोड़

यह भी पढ़ेंः- उज्जैन में महिला का हाई-वॉल्टेज ड्रामाः बच्चे को लेकर ट्रक के नीचे लेट गई, थमा रहा ट्रैफिक

WATCH LIVE TV

Trending news