चुंबन कांड को लेकर विवादों में आए डॉक्टर को बनाया शाजापुर CMHO, कांग्रेस ने ली चुटकी

अरुण यादव ने प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी पर निशाना साधते हुए लिखा कि जिस डॉक्टर को कांग्रेस की सरकार ने हटाया था. वो डॉक्टर मंत्री प्रभुराम चौधरी की कृपा से बड़े पद पर पहुंच गया है.

चुंबन कांड को लेकर विवादों में आए डॉक्टर को बनाया शाजापुर CMHO, कांग्रेस ने ली चुटकी
वायरल फोटो

भोपालः दो साल पहले जिस डॉक्टर का एक महिला नर्स को किस करते हुए वीडियो वायरल हुआ था. उसी डॉक्टर को अब शाजापुर जिले का मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (CMHO)बना दिया गया है. जिस पर मध्य प्रदेश कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव ने ट्वीट करते हुए शिवराज सरकार और स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी पर निशाना साधा है. अरुण यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा कि डॉ राजू निदारिया का एक महिला नर्स को किस करते हुए एक वीडियो वायरल हुआ था. जिसके बाद कांग्रेस सरकार ने उन्हें संस्पेड कर दिया था. लेकिन वर्तमान स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी ने उन्हें शाजापुर जिले का सीएमएचओ (CMHO) बना दिया है.

'प्रभु कहीं बेड़ा गर्त न कर दें'
अरुण यादव ने लिखा कि अभी शाजापुर जिले के स्वास्थ्य विभाग में पदस्थ सीनियर CMHO डॉ फुलम्बरीकर के रिटायर होने में 2 महीने का समय है. लेकिन स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी ने उनके रिटारमेंट का वेट भी नहीं किया और डॉ राजू निदारिया को शाजापुर जिले का सीएमएचओ बना दिया. यादव ने कांग्रेस की सरकार के समय जब इस डॉक्टर का वीडियो वायरल हुआ था, तो उस पर तत्काल कार्रवाई की गयी थी. लेकिन वर्तमान में डॉ राजू निदारिया एक बार फिर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी की कृपा से बड़े पद पर पहुंच गया है. अरुण यादव ने लिखा है कि प्रभु कहीं बेड़ा गर्त न कर दें.

ये भी पढ़ेंः 'किसी भी कीमत पर धर्मांतरण का खेल नहीं चलने दूंगा'- सीएम शिवराज सिंह चौहान

डॉक्टर का वीडियो हुआ था वायरल
दरअसल, करीब दो साल पहले डॉ राजू निदारिया का एक वीडियो वायरल हुआ था. जिसमें वे किसी नर्स को किस करते नजर आ रहे थे. डॉ. निदारिया उस वक्त उज्जैन के जिला अस्पताल में पदस्थ थे. तब उनका वीडियो अस्पताल में पदस्थ नर्सों के वॉट्सएप ग्रुप में डाला गया था. जिसके बाद यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. वीडियो सामने आने के बाद उज्जैन कलेक्टर ने मामले में संज्ञान लेते हुए कार्रवाई के निर्देश दिए थे. मामले में उज्जैन के तत्कालीन सीएमएचओ डॉ. एमएल मालवीय ने डॉ. राजू निदारिया पर कार्रवाई की थी. उस वक्त डॉ. निदारिया को उज्जैन जिले में संक्रमण की जांच करने वाले टीम का हेड बनाया गया था, लेकिन यह मामला सामने आने के बाद उन्हें इस पद पर से हटा दिया गया था. लेकिन अब उन्हें शाजापुर जिले का CMHO बना दिया गया है.

स्वास्थ्य मंत्री पर लगातार निशाना साध रहे हैं अरुण यादव
अरुण यादव लगातार स्वास्थ्य मंत्री पर निशाना साध रहे हैं. इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी की पत्नी को स्वास्थ्य विभाग का ज्वाइंट डायरेक्टर बनाए जाने के मुद्दे पर भी अरुण यादव ने ट्वीट किया था. जिसमें उन्होंने लिखा था कि मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग में वरिष्ठ डॉक्टरों को दरकिनार करते हुए मंत्री ने अपनी पत्नी को डायरेक्टर बना डाला. इस मामले पर भी कांग्रेस लगातार शिवराज सरकार पर निशाना साध रही है. वही अब डॉ राजू निदारिया को शाजापुर का CMHO बनाए जाने पर फिर सियासत गर्माती दिख रही है.

ये भी पढ़ेंः मंदसौर के डॉक्टर का फार्मूला, हैदराबाद से सप्लाई, अब तक इंदौर में खपा चुके हैं 1 अरब का ड्रग

उज्जैन जहरीली शराब कांड के आरोपी सिपाही की जेल में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

WATCH LIVE TV