आबकारी आयुक्त ने कलेक्टरों से मांगे शराब की दुकानें बढ़ाने का प्रस्ताव, CM ने कहा- विचार नहीं

आबकारी आयुक्त राजीव चन्द्र दुबे ने गुरुवार देर रात सभी कलेक्टरों से 20 प्रतिशत नई शराब की दुकानें खोलने के प्रस्ताव मांगें हैं. उन्होंने कलेक्टरों से गांवों में शराब की दुकान बढ़ाने के लिए अनिवार्य रूप से प्रस्ताव भेजने को कहा है. 

आबकारी आयुक्त ने कलेक्टरों से मांगे शराब की दुकानें बढ़ाने का प्रस्ताव, CM ने कहा- विचार नहीं
CM शिवराज ने शराब की नई दुकाने खोलने पर कहा अभी विचार नहीं.

भोपाल: मध्य प्रदेश में आबकारी आयुक्त राजीव चन्द्र दुबे ने गुरुवार देर रात सभी कलेक्टरों से 20 प्रतिशत नई शराब की दुकानें खोलने के प्रस्ताव मांगें हैं. उन्होंने कलेक्टरों से गांवों में शराब की दुकान बढ़ाने का अनिवार्य रूप से प्रस्ताव भेजने को कहा है.आबकारी आयुक्त ने ग्रामीण क्षेत्रों में शराब की दुकानें खोलने के लिए ऐसे गांव चिन्हित करने को कहा है, जहां अभी शराब की कोई दुकान नहीं है. 

ये भी पढ़ें-बिजली वृद्धि के सवाल पर ऊर्जा मंत्री का जवाब, ''इस तरह के किसी प्रस्ताव की जानकारी नहीं''

आपको बता दें कि गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के शराब की नई दुकाने खोलने के बयान के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने साफ कहा था कि शराब की नई दुकानें खोलने पर अभी विचार नहीं किया जा रहा है. 

ये भी पढ़ें-MP में शराब पर घमासान: कमलनाथ के फैसले से नरोत्तम मिश्रा हुए सहमत, शिवराज ने कही ये बात

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के शराब को लेकर दिए गए बयान के बाद विपक्ष ने सरकार पर हमला बोलना शुरू कर दिया था. इतना ही नहीं खुद भाजपा में भी इस बात का विरोध हो रहा है. पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने भी पूर्ण रूप से शराब बंदी की मांग की है. 

ये भी पढ़ें-निचली अदालत के फैसले से हाईकोर्ट ने जतायी असहमति, जानिए जज से क्यों लिखवाया निबंध?

आबकारी आयुक्त द्वारा सभी कलेक्टरों को दिए गए निर्देश के बाद सवाल ये उठता है कि जब शिवराज सरकार शराब की नई दुकाने खोलने का विचार नहीं कर रही है, तो बिना सरकार की अनुमति के आबकारी आयुक्त कलेक्टरों को पत्र लिखकर प्रस्ताव कैसे मांग सकते हैं. 

Watch LIVE TV