वो 5 भारतीय ऐप जो हर कदम पर करेंगे आपकी मदद, आपके स्मार्ट फोन में हैं क्या?

भारत सरकार ने कई ऐसी ऐप्स लॉन्च की हैं, जो लोगों के काम आ सकती हैं. हम ऐसे ही पांच ऐप्स के बारे में आपको बता रहे हैं. पढ़िए पूरी खबर..

वो 5 भारतीय ऐप जो हर कदम पर करेंगे आपकी मदद, आपके स्मार्ट फोन में हैं क्या?

भोपाल: अगर आपके पास भी स्मार्ट फोन है तो ये खबर आपके काम की है. इस खबर में हम आपको उन 5 भारतीय ऐप्स के बारे में जानकारी दे रहे हैं, जो कहीं भी किसी भी वक्त आपके काम आ सकते हैं. दरअसल, जब से भारत में कुछ चीनी एप्स को बैन किया गया है तब से यूजर्स में भारतीय ऐप्स को लेकर लोकप्रियता बढ़ी है. ज्यादातर लोग अब भारतीय ऐप्स का इस्तेमाल करने लगे हैं.

भारत सरकार द्वारा लॉन्च किए गए पांच ऐसे ऐप्स हैं, जिनसे आप ऑनलाइन भुगतान से लेकर कई और तरह के काम कर सकते हैं. महिला सुरक्षा को लेकर भी ऐप्स बनाया गया है. 

1. IRCTC
आईआरसीटीसी ऐप्स भारतीय रेलवे का आधिकारिक ऐप है, जो लोगों के बीच लोकप्रिय है. इस ऐप के जरिए आप घर बैठे ट्रेन की टिकट बुक कर सकते हैं. अब आपको लंबी लाइनों में लगने की जरूरत नहीं पड़ती. खास बात ये है कि IRCTC ऐप के जरिए आप तत्काल और जनरल दोनों ही तरह की टिकट आसानी से बुक कर सकते हैं. 

2. BHIM भीम
ये ऐप भारत के उन सभी बैंकों को सपोर्ट करती है, जो यूपीआई का उपयोग करते हैं. भीम एप को तत्काल भुगतान सेवा यानी IMPS की तर्ज पर तैयार किया गया है. इस ऐप से आप एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं. खास बात है कि इसे हर मोबाइल डिवाइस में इस्तेमाल किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें: टीम इंडिया की जीत से खुश CM शिवराज ने की ऋषभ पंत की 'जयकार', सिंधिया बोले- देश को आप पर गर्व है

3. Digi Locker

ड‍िजीटल लॉकर (Digital Locker) या डिजी लॉकर ( DigiLocker) एक तरह का वर्चुअल लॉकर है, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narenda modi) ने जुलाई 2015 में लॉन्च किया था. ड‍िजीटल इंडिया (digital india) अभियान के तहत डिजीलॉकर को शुरू किया गया था. जिसका उपयोग आप अपने डॉक्‍यूमेंट (document) को ऑनलाइन स्टोर (online store) करने के लिए कर सकते है.  डिजीलॉकर खाता (digi locker account) खोलने के लिए आपके पास आधार कार्ड (aadhar card) का होना अनिवार्य है. डिजीलॉकर में देश के नागरिक पैन कार्ड (pan card), वोटर आईडी (voter id), पासपोर्ट (passport) आदि के साथ कोई भी सरकारी प्रमाण-पत्र स्टोर कर सकते हैं.  हर अकाउंट में 1 जीबी स्टोरेज उपलब्ध कराई जाती है. 

4. 112 महिला सुरक्षा
ये ऐप मुख्य रूप से महिला सुरक्षा के लिए लॉन्च की गई है. यह निर्भया पहल के तहत, परियोजना महिला और बाल विकास मंत्रालय और गृह मंत्रालय का संयुक्त प्रयास है. इस ऐप को कोई भी डाउनलोड कर सकता है. इसके जरिए केवल एक बटन दबाकर या तीन बार पावर बटन दबाकर इमरजेंसी कॉल की जा सकती है. इसके जरिए बिना किसी वॉयस कॉल के ही पीड़ित के पास पुलिस पहुंच जाएगी.

5. UMANG 
उमंग का फुल फॉर्म यूनिफाइड मोबाइल एप्लीकेशन फॉर न्यू –ऐज गवर्नेंस है. उमंग ऐप को भारत में मोबाइल गवर्नेंस चलाने के उद्देश्य से राष्ट्रीय ई–गवर्नेंस डिवीज़न (NeGD) और इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) द्वारा विकसित किया गया है. यह मोबाइल ऐप केवल एक ही प्लेटफॉर्म का उपयोग करके व्यक्तियों को केंद्रीय, राज्य और स्थानीय सरकारी सेवाओं तक पहुंच प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया है. इसमें आधार कार्ड, आयुष्मान भारत, अटल पेंशन योजना, गैस, सीआईएसएफ, साइबर क्राइम, दिल्ली पुलिस, डिजिलॉकर, ईपीएफओ, ई-राही, इंडियन ऑयल जैसे कई अन्य सर्विसेज उपलब्ध कराई जाती हैं. 

ये भी पढ़ें: संबल योजना के हितग्राहियों को CM शिवराज की सौगात, 224 करोड़ रुपए की राशि खातों में ट्रांसफर

ये भी पढ़ें: पुलिस मुख्यालय ने Big B की बात मान कांस्टेबल प्रीति को मंदसौर भेजा, लेकिन पति नाखुश, जानिए वजह

WATCH LIVE TV