सांसों पर पुलिस का पहरा! दो दिन पहले हुई लूट के बाद, आखिरकार ऑक्सीजन को मिली सुरक्षा

दमोह में बीते दो दिनों से हो रही ऑक्सीजन सिलेंडर की लूट के बाद अब ऑक्सीजन सिलेंडर पुलिस की सुरक्षा में है. 

सांसों पर पुलिस का पहरा! दो दिन पहले हुई लूट के बाद, आखिरकार ऑक्सीजन को मिली सुरक्षा

दमोह: दमोह में बीते दो दिनों से हो रही ऑक्सीजन सिलेंडर की लूट के बाद अब ऑक्सीजन सिलेंडर पुलिस की सुरक्षा में है. जिला अस्पताल के ऑक्सीजन स्टोर रूम को पुलिस के जवानों की सुरक्षा से लैस कर दिया है. 

बीजेपी विधायक ने कहा- सरकार पर निर्भर न रहें, कांग्रेस बोलीं- तो क्या पाकिस्तान जाएं इलाज कराने

आपको बता दें कि जिला अस्पताल में आने वाले ऑक्सीजन सिलेंडर को मरीजों के तीमारदार बीते दो दिनों से लूटने में जुटे थे और इस वजह से व्यवस्थाएं चरमरा गई थी. जिसके बाद प्रशासन हरकत में आ गया है और जिला अस्पताल में चप्पे चप्पे पर पुलिस के जवान तैनात किए गए हैं.

स्टोर रूम की सुरक्षा पुलिस हवाले
दरअसल जबलपुर से आने वाले ऑक्सीजन सिलेंडर स्टोर रूम में रखे जा रहे हैं. वहीं स्टोर की सुरक्षा पुलिस वाले कर रहे हैं. बिगड़ते हालातों के बीच जिले के कलेक्टर तरुण राठी ने देर रात जिला अस्पताल का जायजा लिया और खुद स्टोर रूम के साथ अस्पताल स्थिति देखी. 

लापरवाहीः कोरोना मरीज को ले जा रही एम्बुलेंस का हुआ एक्सीडेंट, इतने घंटे बाद मिला शव

सुरक्षा की मांग की जा रही थी
दमोह जिला अस्पताल की सिविल सर्जन डॉ ममता तिमोरी ने 4 दिन पहले पुलिस की सुरक्षा की मांग की थी, इसके लिए एसपी को चिट्ठी भी लिखी थी पर कोई व्यवस्था नहीं की गई थी. ऑक्सीजन सिलेंडर का ट्रक आने पर मरीज के परिजन खुद ही सिलेंडर उठाकर ले जाते हैं. लेकिन अब कलेक्टर द्वारा सुरक्षा दे गई है.

WATCH LIVE TV