अनोखा बच्चा: लाखों में एक बच्चा पैदा होता है, जिसके 2 सिर और 3 हाथ हैं

 डॉक्टर ने बताया इस स्थिति में कई बार बच्चा गर्भ में दम तोड़ देता है और जो कुछ बच्चे इस तरह से जन्म ले लेते है उनका ज्यादा दिन जीवित रहना मुश्किल हो जाता है

 अनोखा बच्चा: लाखों में एक बच्चा पैदा होता है, जिसके 2 सिर और 3 हाथ हैं

चन्द्रशेखर सोलंकी/ रतलाम:  जिले में एक ग्रामीण महिला ने ऐसे बच्चे को जन्म दिया है जो बहुत ही अनोखा है. इस बच्चे के सिर दो है लेकिन धड़ एक ही है. इस अनोखे बच्चे को आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र शिवगड के गांव पडलियाघाटा की महिला दुर्गा पति गवजी ने जन्म दिया है. अस्पताल में नवजात बच्चे को देख सभी चौंक गए. बच्चा जीवित अभी एसएनसीयू में है जहां अभी बच्चे की हालत नाजुक है.

बेहद अनोखी होती है यहां की गोवर्धन पूजा, खौलते दूध में नहाते हैं पुजारी... जानिए कहां का है मामला

दरअसल इस बच्चे का जन्म रतलाम के शासकीय मातृ एवं शिशु स्वाथय इकाई ( MCH यूनिट ) में कल दोपहर करीब 12.30 बजे हुआ है. जिसका वजन 2.77 ग्राम है. यहां के शासकीय चिकित्सक डॉ. नावेद कुरैशी इसका स्वास्थ्य परीक्षण कर रहे है. डॉ. ने बताया कि इस तरह के बच्चे 2 लाख में एक देखने को मिलते है. माँ के गर्भ में भ्रूण के अलग अलग न होने के कारण लाखों में यह स्थिति बनती है. 

आत्मा को साथ ले जाने किया टोटका, बच्चों के इलाज के लिए गर्म सलाखों से जलाते हैं यहां

हायर ट्रीटमेंट सेंटर ले जाना होगा
डॉ. कुरैशी मे बताया कि इस स्थिति में कई बार बच्चा गर्भ में दम तोड़ देता है और जो कुछ बच्चे इस तरह से जन्म ले लेते है उनका ज्यादा दिन जीवित रहना मुश्किल हो जाता है. इस बच्चे के लिए भी फिलहाल यही चिंता का विषय है. हालांकि संभव है कि हाई सर्जरी ट्रीटमेंट से शायद यह बच्चा स्वस्थ हो जाये. इसके लिए इस बच्चे को इंदौर जैसे हायर ट्रीटमेंट सेंटर ले जाना होगा. इसकी सलाह हमने माता पिता को दी है लेकिन माता पिता देहात गांव से है उनके लिए एक हायर स्वास्थ्य सुविधा तक जाना संभव नहीं है. ऐसे में अब इस बच्चे के स्वास्थ्य के लिए वह भी भगवान से ही प्रार्थना कर रहे है. 

WATCH LIVE TV