close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: उफनती नदी पार करने की कोशिश में पानी के सैलाब में बहा युवक, घंटों बाद भी नहीं मिला सुराग

नदी में दिनभर बाढ़ का पानी पुल से ऊपर से बह रहा था. इस दौरान शाम को पुल पर तेज बहाव के बाद भी एक युवक को जान जोखिम में डालकर नदी से निकलना भारी पड़ा.

VIDEO: उफनती नदी पार करने की कोशिश में पानी के सैलाब में बहा युवक, घंटों बाद भी नहीं मिला सुराग
युवक जब नदी पार करने की कोशिश कर रहा था, तब उसे चिल्ला कर उसे रोका भी गया, लेकिन वह नहीं माना.

राकेश जयसवाल/खरगोनः तीन दिन की लगातार बारिश खरगोन के लोगों के लिए अब आफत साबित हो रही है. क्षेत्र में हर तरफ पानी ही पानी दिखाई दे रही है और सभी नदी-नाले उफान पर हैं. ऐसे में प्रशासन के सख्त निर्देशों के बाद भी लोग अपनी जान जोखिम में डालकर उफान पर बह रही नदियों को पार करके  अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं. ऐसा ही नजारा झिरन्या में देखने को मिला, जहां रूपारेल नदी में दिनभर बाढ़ का पानी पुल से ऊपर से बह रहा था. इस दौरान शाम को पुल पर तेज बहाव के बाद भी एक युवक को जान जोखिम में डालकर नदी से निकलना भारी पड़ा.

दरअसल, युवक पुल के ऊपर से बह रही रूपारेल नदी से को पार कर रहा था कि तभी, पुल के बीचों-बीच पहुंचा पानी के तेज बहाव के साथ वह भी बह गया. घटना शुक्रवार शाम की है, जहां शाम के समय युवक इस पुल को पार करने की कोशिश कर रहा था और पानी के तेज बहाव के चलते वह बह गया. घटना के बाद से ही राहत-बचाव दल और आस-पास के लोग युवक की तलाश में लगे हैं, लेकिन उसका अब तक कोई पता नहीं चल सका है. 

देखें वीडियो

स्थानीय लोगों ने बताया कि युवक जब नदी पार करने की कोशिश कर रहा था, तब उसे चिल्ला कर उसे रोका भी गया मगर वह कूदते हुए नदी से निकलने में बह गया. वहीं इसी तरह की दूसरी घटना खरगोन के बड़वाह में भी देखने को मिली, जहां दशहरा मैदान से टोकी रोड पर स्थित छोटी पुलिया पर एक मोटर साइकिल सवार बारिश के पानी के फिसलन से अनियंत्रित होकर पूलिया के नीचे गिर गये.

नासिक: गोदावरी में आई बाढ़ में सैकड़ों एकड़ फसल बर्बाद, किसान मांग रहे मुआवजा

दुर्घटना में बाइक पर सवार दो युवक में से एक कि घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि एक गंभीर घायल को बड़वाह अस्पताल लाया गया, जहां से उसे प्राथमिक उपचार के बाद इंदौर रेफर किया गया है. प्राप्त जानकारी के अनुसार युवक महेश पिता नाना 30 वर्ष निवासी ग्राम दसोड़ा से अपनी बहन के यहां सुलगाव और सिरलाय में इर्पोस देकर अपने मामा के यहां टोकी गया था. जहां से वापस आते वक्त इस दुर्घटना में उसकी मौत हो गई.