close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

180वीं पुण्‍यतिथि पर आज लाहौर में होगा महाराजा रणजीत सिंह की प्रतिमा का अनावरण

पंजाब में करीब 40 साल तक राज करने वाले महाराजा रणजीत सिंह की आज 180वीं पुण्‍यतिथि है. उनकी पुण्‍यतिथि के अवसर पर पाकिस्‍तान के लाहौर में उनकी प्रतिमा का आज अनवारण होना है. 

180वीं पुण्‍यतिथि पर आज लाहौर में होगा महाराजा रणजीत सिंह की प्रतिमा का अनावरण
लाहौर में महाराजा रणजीत सिंह की प्रतिमा का होगा अनावरण.

नई दिल्‍ली : पंजाब में करीब 40 साल तक राज करने वाले महाराजा रणजीत सिंह की आज 180वीं पुण्‍यतिथि है. उनकी पुण्‍यतिथि के अवसर पर पाकिस्‍तान के लाहौर में उनकी प्रतिमा का आज अनवारण होना है. इसे लेकर पाकिस्‍तान के मंत्री फवाद चौधरी ने भी ट्वीट किया है. उन्‍होंने जानकारी देते हुए कहा है, 'आज पंजाब के महान प्रशासक महाराजा रणजीत सिंह की 180वीं पुण्‍यतिथि है. महाराजा ने योद्धा के रूप में काबुल से लेकर दिल्‍ली तक राज किया है. महाराजा को शासन प्रणाली में सुधार करने के लिए हमेशा याद किया जाएगा.


ऐसी है महाराजा रणजीत सिंह की प्रतिमा.

महाराजा रणजीत सिंह की यह मूर्ति लाहौर किले में माय जिंदियन हवेली के बाहर लगाई गई है. इसी जगह पर महाराजा रणजीत सिंह की समाधि और गुरु अर्जुन देव के गुरुद्वारा डेरा साहिब का भवन है. रणजीत सिंह की सबसे छोटी रानी के नाम पर स्थित हवेली में अब सिख कलाकृतियों की एक स्थाई प्रदर्शनी है और इसे सिख गैलरी कहा जाता है.

महाराजा रणजीत सिंह की इस प्रतिमा के उद्घाटन  कार्यक्रम से संबंधित दस्‍तावेज के मुताबिक महाराजा रणजीत सिंह की प्रतिमा को घोड़े पर चढ़ा हुआ दर्शाया गया है. इस प्रतिमा को लाहौर प्राधिकरण की दीवार शहर (डब्ल्यूसीएलए) के तत्वावधान में स्थापित किया जा रहा है. डब्ल्यूसीएलए के महानिदेशक कामरान लशैरी ने कहा कि जैसा कि आप जानते हैं, धार्मिक पर्यटन हमारी सरकार के मुख्य विषयों में से एक है. करतारपुर साहिब, ननकाना साहिब को इस सरकार से अधिक ध्यान मिला है. 

पाकिस्तान ने सोमवार को 463 भारतीय सिख श्रद्धालुओं को वीजा जारी किया जो महाराजा रणजीत सिंह की पुण्यतिथि के लिए गए हैं. पाकिस्तानी उच्चायोग ने कहा कि उसने उन सिख ‘‘यात्रियों’’ को समायोजित किया है जिन्हें गुरु अर्जुन देव जी की शहीदी दिवस के लिए 14 से 23 जून तक के लिए वीजा दिया गया था लेकिन वे पाकिस्तान नहीं जा पाए.


ऐसी है महाराजा रणजीत सिंह की प्रतिमा.

पाकिस्तानी उच्चायोग ने कहा कि नयी दिल्ली स्थित उच्चयोग द्वारा जारी ये वीजा विश्व के विभिन्न हिस्सों से आने वाले सिख श्रद्धालुओं को दिये जाने वाले वीजा के अतिरिक्त हैं. 463 भारतीय सिख श्रद्धालु महाराजा रणजीत सिंह की पुण्यतिथि के लिए 27 जून से छह जुलाई तक पाकिस्तान की यात्रा करेंगे.