सरकार बनने के 24 घंटे के भीतर डिप्‍टी सीएम पद को लेकर कांग्रेस और एनसीपी में खींचतान शुरू

महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार मे उप मुख्यमंत्री कुर्सी को लेकर कांग्रेस और एनसीपी में खींचतान की खबरें आ रही हैं.

सरकार बनने के 24 घंटे के भीतर डिप्‍टी सीएम पद को लेकर कांग्रेस और एनसीपी में खींचतान शुरू

मुंबई: महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार मे उप मुख्यमंत्री कुर्सी को लेकर कांग्रेस और एनसीपी में खींचतान की खबरें आ रही हैं. दरअसल कांग्रेस भी अपना उपमुख्‍यमंत्री यानी डिप्टी सीएम बनाना चाहती है. सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस, स्‍पीकर की कुर्सी के बदले एनसीपी से डिप्‍टी स्‍पीकर का पद मांग रही है. हालांकि पहले सत्‍ता के बंटवारे के तहत उपमुख्‍यमंत्री का पद एनसीपी और कांग्रेस को स्‍पीकर का पद देने पर तीनों पार्टियों के बीच सहमति बनी थी. डिप्टी सीएम के लिए कांग्रेस एक अपने कोटे का एक मंत्रालय भी छोड़ने के लिए तैयार है.

लेकिन सूत्रों के मुताबिक एनसीपी अजित पवार को डिप्टी चीफ मिनिस्टर बनाने के हक में है. सिर्फ इतना ही अन्‍य मंत्रालयों को लेकर भी रस्‍साकशी चल रही है. एनसीपी गृहमंत्री का पद जयंत पाटिल के लिए मांग रही है जबकि कांग्रेस राजस्व मंत्रालय अपने नेता बालासाहेब थोरात के लिए चाहती है. ठीक इसी तरह सूत्रों के मुताबिक उद्धव ठाकरे शहरी विकास मंत्रालय शिवसेना के पास रखने के हक में हैं. वैसे उद्धव ठाकरे सरकार के बहुमत हासिल करने के बाद महाराष्ट्र कैबिनेट का विस्तार होगा. तीन दिसंबर को बहुमत सिद्ध करने की तैयारी है. उद्धव ठाकरे आज विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने के संबंध में फैसला करेंगे. सूत्रों के मुताबिक सरकार स्‍पीकर के चुनाव और बहुमत साबित करने के लिए कल से विशेष सत्र बुलाने का आज फैसला ले सकती है.

ये भी देखें...

उद्धव बने ठाकरे परिवार के पहले मुख्यमंत्री
उल्‍लेखनीय है कि उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के तौर पर गुरुवार को शपथ ग्रहण की. उद्धव ने शिवाजी महाराज को नमन करते हुए मराठी भाषा में शपथ ली. वह ठाकरे परिवार से पहले मुख्यमंत्री हैं. महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने शाम 6.40 बजे उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. उनके अलावा शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस के दो-दो विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली.

इनमें शिवसेना के एकनाथ शिंदे व सुभाष देसाई, राकांपा के जयंत पाटिल व छगन भुजबल और कांग्रेस के बालासाहेब थोरात व नितिन राउत शामिल हैं. शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस की गठबंधन सरकार के न्यूनतम साझा कार्यक्रम (कॉमन मिनिमम प्रोग्राम) में किसान, रोजगार, शिक्षा, शहरी विकास, पर्यटन, कला, संस्कृति और महिलाओं के मुद्दे पर काम करने का वादा किया गया है.

शिवाजी पार्क में शपथ ग्रहण समारोह में कारोबारी मुकेश अंबानी, उनकी पत्नी नीता अंबानी और बेटे भी मौजूद रहे. इसके आलावा पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, मनोहर जोशी, मप्र के सीएम कमलनाथ, कांग्रेस नेता अहमद पटेल, कपिल सिब्बल, पृथ्वीराज चव्हाण, द्रमुक के स्टालिन, टीआर बालू, मनसे के राज ठाकरे ने हिस्सा लिया. इसके अलावा संजय राउत, मल्लिकार्जुन खड़गे, शरद पवार और सुप्रिया सुले भी समारोह में शामिल हुए.