Vaccination को लेकर Modi सरकार की बड़ी तैयारी: साल के अंत तक सभी को टीका लगाने का लक्ष्य, ये है Plan

नीति आयोग के सदस्य सदस्य डॉ वीके पॉल ने बताया कि देश में पांच महीनों में दो अरब खुराक (216 करोड़) बनाई जाएंगी, ताकि प्रत्येक नागरिक का टीकाकरण किया जा सके. उन्होंने यह भी कहा कि अगले साल की पहली तिमाही तक वैक्सीन उत्पादन की संख्या तीन अरब तक पहुंचने की संभावना है.

Vaccination को लेकर Modi सरकार की बड़ी तैयारी: साल के अंत तक सभी को टीका लगाने का लक्ष्य, ये है Plan
फाइल फोटो

नई दिल्ली: कोरोना (Coronavirus) से मुकाबले के लिए सरकार इस साल के अंत तक पूरी आबादी के टीकाकरण करना चाहती है. इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए तैयारियां भी शुरू हो गई हैं. नीति आयोग (NITI Aayog) के सदस्य डॉ वीके पॉल (Dr V K Paul) ने बताया कि देश में दिसंबर तक सभी नागरिकों को टीका लगाने के लिए पर्याप्त वैक्सीन होगी. उन्होंने कहा कि अगस्त और दिसंबर के बीच के इन पांच महीनों में वैक्सीन की दो अरब से अधिक खुराक उपलब्ध कराई जाएंगी. जिसका अर्थ है कि प्रत्येक व्यक्ति का टीकाकरण आसानी से किया जा सकेगा. 

अगले साल और बढ़ेगी Speed

एक तरफ जहां कोरोना महामारी के खतरे को देखते हुए लोगों से वैक्सीन लगवाने की बात कही जा रही है. वहीं, दूसरी तरफ कई राज्यों ने टीके की कमी की शिकायत की है. ऐसे में डॉ वीके पॉल का यह बयान एक उम्मीद जगाता है कि आने वाले कुछ महीनों में कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की किल्लत को दूर कर लिया जाएगा. डॉ. पॉल ने यह भी कहा कि अगले साल की पहली तिमाही तक वैक्सीन उत्पादन की संख्या तीन अरब तक पहुंचने की संभावना है. 

ये भी पढ़ें -Black Fungus: इन 10 राज्यों में जानलेवा ब्लैक फंगस ने दी दस्तक, जानें इसके लक्षण और बचाव के उपाय

ऐसे उपलब्ध होंगी Vaccine

नीति आयोग के सदस्य ने कहा कि भारत और देश के लोगों के लिए देश में पांच महीनों में दो अरब खुराक (216 करोड़) बनाई जाएंगी. जिसके तहत 55 करोड़ डोज कोवैक्सीन, 75 करोड़ कोविशील्ड, 30 करोड़ बायो ई सब युनिट वैक्सीन, 5 करोड़ जायडस कैंडिला डीएनए, 20 करोड़ नोवावैक्स, 10 करोड़ भारत बायोटेक नेजल वैक्सीन, 6 करोड़ जिनोवा, और स्पूतनिक V की 15 करोड़ डोज़ उपलब्ध होंगी. 

Companies से चल रही बात

फाइजर, मॉडर्न और जॉनसन एंड जॉनसन (Pfizer, Moderna and Johnson & Johnson) से टीकों की खरीद पर पॉल ने कहा कि सरकार जैव प्रौद्योगिकी विभाग और विदेश मंत्रालय के माध्यम से इन फर्मों के संपर्क में है. हमने उनसे औपचारिक रूप से पूछा कि वे भारत को खुराक भेजना चाहते हैं या यहां वैक्सीन का निर्माण करेंगे. डॉक्टर पॉल के मुताबिक, उन्होंने कहा है कि वे तीसरी तिमाही में टीके की उपलब्धता के बारे में बात करेंगे. हम मॉडर्न, फाइजर और जॉनसन के साथ इस प्रक्रिया में तेजी ला रहे हैं और उम्मीद हैं कि कंपनियां जल्द आगे आएंगी.

अब तक इतनों को लगी Vaccine

इस बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में अब तक 18 करोड़ के आसपास वैक्सीन लगाई जा चुकी हैं. गुरुवार को 18-44 आयु वर्ग के 4,37,192 लाभार्थियों को COVID वैक्सीन की पहली डोज दी गई. गौरतलब है कि दिल्ली, महाराष्ट्र सहित कई राज्यों ने केंद्र के सामने टीकों की कमी का मुद्दा उठाया है. टीके की कमी के बाद कुछ राज्यों में वैक्सीनेशन सेंटरों को बंद भी करना पड़ा है. हालांकि, केंद्र सरकार वैक्सीन की कमी को पूरी तरह स्वीकार नहीं कर रही है.

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.