Breaking News
  • गुजरात के दो कांग्रेसी विधायकों ने राज्य की चार सीटों के लिए राज्यसभा चुनाव से पहले इस्तीफा दिया
  • इस तरह गुजरात में कांग्रेस के सात विधायक अब तक इस्‍तीफा दे चुके हैं

प्रधानमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना का 24 घंटे में कमाल, 1,000 से ज्यादा लोगों ने सम्मान से कराया इलाज

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, लाभ लेने वालों में से सबसे अधिक मरीज छत्तीसगढ़ और हरियाणा से रहे. इसके बाद झारखंड, असम और मध्य प्रदेश के लोगों ने इसका लाभ उठाया.

प्रधानमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना का 24 घंटे में कमाल, 1,000 से ज्यादा लोगों ने सम्मान से कराया इलाज
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना जिसे मोदी केयर योजना भी कहा जा रहा है, की शुरुआत के महज 24 घंटे के अन्दर देशभर में 1,000 से भी अधिक मरीजों ने इस स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ उठाया है. आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, लाभ लेने वालों में से सबसे अधिक मरीज छत्तीसगढ़ और हरियाणा से रहे. इसके बाद झारखंड, असम और मध्य प्रदेश के मरीज रहे. 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को रांची में इस योजना को शुरू करते समय पांच गोल्ड कार्ड वितरित किया था. इसके तुरंत बाद पूर्वी सिंहभूम सदर अस्पताल (जमशेदपुर) में 22 साल की पूनम महतो ने एक बच्ची को जन्म दिया. पूनम इस योजना का लाभ लेने वाली पहली शख्स रही. योजना के शुरू होने के कुछ घंटों के अन्दर ही रांची इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस में चार मरीज भर्ती हुए.

98 प्रतिशत लाभार्थियों की पहचान पूरी
इस स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत देशभर में 10 करोड़ परिवारों को पांच लाख रुपए के कैशलेस इलाज की सुविधा मिलेगी. कुल मिलाकर 50 करोड़ लोग इस योजना का लाभ उठाएंगे. इस योजना के तहत लाभ लेने वालों की पहचान करने वाली एजेंसी नेशनल हेल्थ एजेंसी (एनएचए) ने 98 प्रतिशत लाभार्थियों की पहचान भी कर ली है. 

PM

यह एजेंसी फिलहाल प्रत्येक लाभार्थी को योजना से संबंधित पत्र भेजने के काम में जुटी है. इसमें यह बताया जा रहा है कि इस योजना का लाभ आप कैसे ले सकते हैं. इन पत्रों में QR code और अन्य जानकारियां हैं, ताकि ऐसे मरीज इस योजना से जुड़े अस्पतालों में सुविधा प्राप्त कर सकें.

40 लाख से अधिक पत्र लाभार्थियों को भेजा जा चुका
टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, एक अधिकारी ने बताया कि हमने प्रधानमंत्री की तरफ से 40 लाख से भी अधिक पत्र अबतक भेज दिया है. यह पत्र आरोग्य मित्र के द्वारा अस्पताल में स्कैन किया जाएगा, ताकि लाभार्थी की पहचान हो सके और उसे सुविधा मिल सके.

HOSPITAL

वेबसाइट भी शुरू की गई 
इस योजना के लिए वेबसाइट https://mera.pmjay.gov.in/ भी शुरू की गई है. साथ ही एक हेल्पलाइन नंबर- 14555 भी जारी किया गया है, जहां लोग फोन कर जानकारियां ले सकेंगे. प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना देश के 445 जिलों में शुरू किया गया है. इस योजना की शुरुआत होते ही देशभऱ के 10,000 से अधिक सरकारी और निजी अस्पतालों में 2.65 लाख बेड उपलब्ध हो गए हैं.

इसे भी पढ़ेंप्रधानमंत्री जन आरोग्‍य योजना : लाभार्थियों की सूची में ऐसे चेक करें नाम, न होने पर ऐसे करवाएं शामिल

इस योजना से जुड़ी खास बातें
-लाभ लेने वाले परिवारों में से 8 करोड़ 3 लाख परिवार ग्रामीण इलाकों से होंगे और 2 करोड़ 33 लाख परिवार शहरी इलाकों से होंगे 
-इस योजना के तहत, हर परिवार को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती होने पर हर वर्ष 5 लाख रुपए का Coverage मिलेगा. यानी किसी बीमारी की स्थिति में 5 लाख रुपये तक का इलाज मुफ्त होगा.
-इस योजना से जुड़े लोग पूरे देश के किसी भी राज्य में Cashless इलाज करवा सकते हैं. इसका मतलब ये है कि आप चाहे किसी भी राज्य के निवासी हों, पूरे देश में इसका लाभ ले सकते हैं. 
-सरकार ने अलग-अलग बीमारियों के लिए अलग Pacakge निर्धारित किए हैं. किस बीमारी पर कितना खर्च किया जा सकता है, इसे लेकर सीमाएं तय की गई हैं. 
-इस योजना का लाभ उन परिवारों को मिलेगा, जिनमें 16 वर्ष से 59 वर्ष के बीच की उम्र का एक भी सदस्य नहीं है. 
-इसका लाभ वो परिवार उठा पाएगा जिनमें घर चलाने की ज़िम्मेदारी महिला पर है और परिवार में ऐसा कोई भी पुरुष सदस्य नहीं है जिसकी उम्र 16 वर्ष से 59 वर्ष के बीच हो. वो भी इस योजना का लाभ उठा पाएगा.