close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गुवाहाटी को तंबाकू मुक्त शहर बनाने के लिए 700 से अधिक लोगों ने वॉकथॉन में लिया हिस्सा

असम के स्वास्थ मंत्री डॉ.हिमंत बिस्वा शर्मा ने असम में तेज़ी से बढ़ रहें तंबाकू के सेवन से चिंता जताई और कहा की देश में जब तंबाकू के सेवन के खिलाफ लोगो में जाग्रति बढ़ रही हैं और लोग तंबाकू से होने वाले रोगों के बारे में जान रहें हैं. 

गुवाहाटी को तंबाकू मुक्त शहर बनाने के लिए 700 से अधिक लोगों ने वॉकथॉन में लिया हिस्सा

गुवाहाटी: गुवाहाटी शहर को तंबाकू मुक्त बनाने के उद्देश्य से 700 से अधिक लोगों ने मंगलवार सुबह आयोजित वॉकथॉन में हिस्सा लिया गुवाहाटी को तंबाकू मुक्त शहर बनाने के उद्देश्य से कंज्यूमर लीगल प्रोटेक्शन फोरम, असम और कंज्यूमर वॉइस, नई दिल्ली के तत्वावधान में ‘पथिक’ के सहयोग से वॉकथॉन का आयोजन किया गया शहर के छह मील स्थित हितेश्वर सैकिया कॉलेज (सिटी कॉलेज) से वेटरनरी यूटर्न होते हुए यह वॉकथॉन गणेश मंदिर स्टेडियम में जाकर समाप्त हुआ. 

बता दें कि विश्व तंबाकू निषेध दिवस के अवसर पर 5-किलोमीटर लंबी इस वॉकथॉन का आयोजन किया गया था. वॉकथॉन का आयोजन सभी हितधारकों को तंबाकू के प्रति संवेदीकरण और प्रभावी तंबाकू नियंत्रण उपायों के लिए लोगों में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से किया गया था ताकि युवा पीढ़ी को तंबाकू के खतरे से बचाया जा सके और गुवाहाटी को तंबाकू मुक्त शहर बनाया जा सके. आज सुबह 7 बजे इस वॉकथॉन को असम पुलिस के सीआईडी के एडीजीपी डॉ. एलआर बिश्नोई ने फ्लैग ऑफ कर रवाना किया. हितेश्वर सैकिया कॉलेज के मैदान से शुरू हुआ, जिसमें 700 से अधिक स्कूल और कॉलेज के छात्र, शिक्षक, प्रख्यात व्यक्ति, हस्तियां, महिला संगठन, सिविल सोसायटी, पुलिस और सरकारी अधिकारियों ने भाग लिया तंबाकू के खिलाफ युवा पीढ़ियों में जागरूकता लाने के उद्देश्य से वॉकथॉन के बाद एक सभा का आयोजन भी किया गया.

इस दौरान गुवाहाटी स्तिथ डॉ. बी बरुवा कैंसर संस्थान के निदेशक डॉ. अमल चंद्र कटकी, गुवाहाटी नगर निगम के आयुक्त देवेश्वर मालाकार, राज्यिक तंबाकू नियंत्रण शाखा की स्टेट नॉडल अधिकारी डॉ. अरुणधती डेका, असम कैंसर केयर फाउंडेशन, असम के वरिष्ठ कार्यकारी आकाश प्रधान सहित कई लोग उपस्थित थे. ग्लोबल एडल्ट्स टोबैको सर्वे के मुताबिक, असम में 25.3 प्रतिशत पुरुष, 0.8 प्रतिशत महिलाएं और 13.3 प्रतिशत सभी वयस्क वर्तमान में तंबाकू का सेवन करते हैं 50.5 प्रतिशत पुरुष और 32.5 प्रतिशत महिलाएं और 41.7 प्रतिशत सभी वयस्क वर्तमान में धूम्रपान रहित तंबाकू का उपयोग करते हैं. तंबाकू के उपयोग की शुरुआत की औसत आयु 18.1 प्रतिशत से बढ़कर 18.५ प्रतिशत हो गई है जब देश में तंबाकू का उपयोग 34.6 प्रतिशत से घटकर 28.6 प्रतिशत हो गया, तो असम में यह 39.3 प्रतिशत से बढ़कर 48.2 प्रतिशत हो गया है. 

असम के स्वास्थ मंत्री डॉ.हिमंत बिस्वा शर्मा ने असम में तेज़ी से बढ़ रहें तंबाकू के सेवन से चिंता जताई और कहा की देश में जब तंबाकू के सेवन के खिलाफ लोगो में जाग्रति बढ़ रही हैं और लोग तंबाकू से होने वाले रोगों के बारे में जान रहें हैं. ऐसे में असम में तंबाकू के उपयोग  पर प्रतिबंध लगाने का हमेशा प्रयास किया पर कभी इस निर्णय पर सर्वसम्मत राय नहीं बन पाने का भी खेद जताया. फिर भी इस दिशा में अमलीजमा पहनाने का काम जल्द पूरी करने की बात दुहराई और कैंसर जैसे घातक बीमारी से बचने के लिए तंबाकू का उपयोग न करने की लोगों से अपील भी की.