close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जगनमोहन रेड्डी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होंगे चंद्रबाबू नायडू

तेलुगु देशम पार्टी के अध्यक्ष एवं आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू, वाईएस जगनमोहन रेड्डी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होंगे. शपथ ग्रहण समारोह से पहले, टीडीपी विधायकों का एक प्रतिनिधि मंडल जगमोहन से मुलाकात करेगा. 

जगनमोहन रेड्डी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होंगे चंद्रबाबू नायडू
टीडीपी को हाल में संपन्न हुए विधानसभा चुनावों में वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के हाथों करारी हार का सामना करना पड़ा.

अमरावती: तेलुगु देशम पार्टी के अध्यक्ष एवं आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू, वाईएस जगनमोहन रेड्डी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होंगे. शपथ ग्रहण समारोह से पहले, टीडीपी विधायकों का एक प्रतिनिधि मंडल जगमोहन से मुलाकात करेगा. जगमोहन ने चंद्रबाबू नायडू को 30 मई को विजयवाड़ा में होने वाले अपने शपथग्रहण समारोह में आमंत्रित किया है. वह गुरुवार को दोपहर 12 बजकर 23 मिनट पर शपथ ग्रहण करेंगे. इस बात की पूरी संभावना है कि रेड्डी अकेले ही शपथ ग्रहण करेंगे. एक सप्ताह या 10 दिन में उनकी कैबिनेट का गठन होगा. 

चंद्रबाबू नायडू टीडीपी विधायक दल का नेता चुने गए 
चंद्रबाबू नायडू को बुधवार को सर्वसम्मति से तेलुगु देशम विधायक दल का नेता चुन लिया गया. नायडू के आवास पर तेलुगु देशम विधायक दल की बैठक हुई जिसमें पार्टी के नवनिर्वाचित विधायकों और सांसदों ने हिस्सा लिया. 

जून 2014 से आंध्र प्रदेश में सत्तासीन रही टीडीपी को हाल में संपन्न हुए विधानसभा चुनावों में वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के हाथों करारी हार का सामना करना पड़ा. टीडीपी को 175 सदस्यीय विधानसभा के लिए हुए चुनाव में महज 23 सीटें मिली. लोकसभा चुनावों में भी नायडू की अगुवाई वाली पार्टी को बड़ी हार का सामना करना पड़ा और उसे राज्य की 28 सीटों में से महज तीन पर जीत मिली. नायडू ने पार्टी के 23 नए विधायकों, तीन सांसदों और वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की. बीते 23 मई को चुनावों के नतीजे घोषित होने के बाद से अटकलें थीं कि नायडू तेदेपा विधायक दल के नेता के तौर पर किसी अन्य नेता को आगे कर सकते हैं, लेकिन विधायकों ने उन्हें ही सर्वसम्मति से चुना.

 

बढ़ सकती हैं नायडू की मुश्किलें 
आंध्र प्रदेश के नामित मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने राज्य में भ्रष्टाचार मुक्त सरकार का वादा करते हुए कहा है कि है पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू द्वारा शुरू किए गए राज्य की नई राजधानी अमरावती के निर्माण कार्य, पोलावरम परियोजना और अन्य योजनाओं में कथित अनियमितताओं की जांच शुरू कराएंगे. उन्होंने कहा कि राज्य में प्रत्येक विभाग के कार्यों की समीक्षा के बाद इस संबंध में श्वेत पत्र जारी किया जाएगा. उन्होंने कहा कि उनकी प्राथमिकता "नौ वृहद कल्याणकारी कार्यक्रमों’’ संबंधी पार्टी के चुनावी वादों को लागू करने की होगी."