पैलेस ऑन व्हील्स की तर्ज पर दक्षिण भारत में चलेगी 'गोल्डन चैरियट ट्रेन'

IRCTC के मुताबिक गोल्डन चैरियट के लिए रेल मंत्रालय ने कर्नाटक सरकार के साथ अनुबंध किया है. 

पैलेस ऑन व्हील्स की तर्ज पर दक्षिण भारत में चलेगी 'गोल्डन चैरियट ट्रेन'
पैलेस ऑन व्हील्स की फाइल फोटो.

नई दिल्ली: विश्व प्रसिद्ध शाही रेलगाड़ी महाराजा (पैलेस ऑन व्हील्स) की तर्ज पर अब दक्षिण भारत मे भी 'गोल्डन चैरियेत ट्रेन" (Golden Chariot train) चलाई जाएगी. IRCTC ने मंगलवार को यह जानकारी दी. IRCTC के मुताबिक गोल्डन चैरियट के लिए रेल मंत्रालय ने कर्नाटक सरकार के साथ अनुबंध किया है. 

18 कोच की इस लग्ज़री ट्रेन में 44 गेस्ट रूम होंगे जिनमें 84 लोग एकसाथ यात्रा कर सकेंगे. यह भारत की सबसे लग्ज़री रेलगाड़ियों में से एक होगी. इतना ही नहीं यह ट्रेन इतिहास, संस्कृति और वाइल्ड लाइफ से जुड़े दक्षिण भारत के दर्शनीय स्थलों की यात्रा भी कराएगी.

जानकारी के मुताबिक गोआ से लेकर बांदीपुर, मैसूर, चिकमंगलूर, हम्पी, बीजापुर जैसी जगहों को इसमें शामिल किया गया है. गोल्डन चैरियट की शुरुआत मार्च 2020 से होगी. आपको बता दें कि सभी राज्यों के समक्ष प्रधानमंत्री ने आंतरिक टूरिज्म बढ़ाने का लक्ष्य रखा है. रेल राज्यमंत्री सुरेश अगड़ी ने कहा कि रेलवे कोशिश करेगा कि भारत की इस बेहतरीन लग्ज़री ट्रेन का किराया लोगो की पहुँच में रहे.

पैलेस ऑन व्हील्स 
आपको बता दें कि 23 साल पहले बड़ी लाइन की पैलेस ऑन व्हील्स को तैयार किया गया था. तभी से यह ट्रेन देश और दुनिया के पर्यटकों के बीच खासी लोकप्रिय रही है. पैलेस ऑन व्हील्स दुनिया की 'डू बिफोर डाई' लिस्ट में भी शामिल है.