photoDetails1hindi

Delhi MCD Election Result: एमसीडी में क्यों जीत का 'चौका' नहीं लगा पाई बीजेपी, करारी हार की ये हैं 5 वजह

Who Won Delhi MCD Election: दिल्ली एमसीडी चुनाव के नतीजे आने शुरू हो गए हैं. आम आदमी पार्टी ने बीजेपी का 15 साल का शासन उखाड़ फेंका है. पार्टी ने एमसीडी चुनाव में जबरदस्त जीत हासिल की है. हालांकि नतीजों से पहले तमाम राजनीतिक पार्टियों ने अपने-अपने जीत के दावे किए थे. लेकिन तमाम दावों से इतर नतीजे सबके सामने हैं और पहली बार आम आदमी पार्टी का एमसीडी में अपना मेयर होगा. आइए अब आपको बताते हैं कि बीजेपी की हार के बड़े कारण क्या हैं.

1/5

बीजेपी 15 साल से एमसीडी में है. लिहाजा एंटी इन्कमबेंसी बड़ा कारण माना जा रहा है. लोगों ने इस बार आम आदमी पार्टी को मौका देने पर विचार किया. कूडे का पहाड़ और साफ-सफाई जैसे मुद्दे बीजेपी और आम आदमी पार्टी के बीच तकरार की बड़ी वजह रहे. गाजीपुर में कूड़े का पहाड़, सड़कों का खराब-रखरखाव और गंदी यमुना नदी जैसे मुद्दों ने भी चुनाव में बीजेपी को खासा नुकसान पहुंचाया. 

2/5

दिल्लीवासियों के लिए भीड़भाड़ की समस्या हमेशा से बुरा सपना रही है. अत्यधिक व्यावसायीकरण, अवैध निर्माण और विशेष रूप से पुरानी दिल्ली के इलाकों में संकरी गलियों में एमसीडी के काम के तरीके ने निराशा पैदा की है. बीजेपी को इन वजहों से भी लोगों के गुस्से का शिकार होना पड़ा. 

3/5

दिल्ली में पार्किंग की समस्या भयंकर होती जा रही है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली में औसतन हर दिन 548 वाहन रजिस्टर्ड होते हैं. इस वजह से पार्किंग में गाड़ी लगाना लोगों के लिए मुसीबत का सबब बनता गया. इस समस्या ने भी परेशान लोगों को नए विकल्प पर सोचने को मजबूर कर दिया. 

4/5

दिल्ली में प्रदूषण की समस्या कितना गंभीर रूप ले चुकी है, यह अब बताने की जरूरत नहीं है. बीजेपी और आम आदमी पार्टी इसके लिए एक-दूसरे पर आरोप लगाती रही हैं. आप एमसीडी को दोष देती है, जबकि बीजेपी सरकार पर कुछ नहीं करने का आरोप लगाती है. लेकिन दोषारोपण में नुकसान दिल्ली वालों का ही होता रहा. 

5/5

दिल्ली के स्कूलों की बेहतर स्थिति और बिजली व पानी पर आम आदमी पार्टी की सब्सिडी ने भी आम आदमी पार्टी को काफी फायदा पहुंचाया. इस कारण भी बीजेपी को खासा नुकसान पहुंचा और आम आदमी पार्टी को जीत नसीब हुई.

photo-gallery