अगले 4 साल में World Class बनेगा New Delhi Railway Station, डिजाइन की तस्वीरें आई सामने

अगले चार सालों में दुनिया नई दिल्ली रेलवे स्टेशन की ऐसी तस्वीर देखेगी, जिसकी किसी ने कल्पना भी न की होगी. ये तस्वीरें नई दिल्ली रेलवे स्टेशन का भविष्य दिखा रही हैं

समीर दीक्षित | Jan 13, 2021, 21:09 PM IST
1/5

ये तस्वीरें नई दिल्ली रेलवे स्टेशन का भविष्य दिखा रही हैं

ये तस्वीरें नई दिल्ली रेलवे स्टेशन का भविष्य दिखा रही हैं

भारतीय रेलवे ने देश के सबसे व्यस्त रेलवे स्टेशनों में से एक नई दिल्ली रेलवे स्टेशन का कायापलट करने का फैसला लिया है. नई दिल्ली रेलवे स्टेशन को वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन बनाने के लिए इसे रेलवे के री-डेवलपमेंट प्रोजेक्ट में शामिल किया गया है. अगले चार सालों में दुनिया नई दिल्ली रेलवे स्टेशन की ऐसी तस्वीर देखेगी, जिसकी किसी ने कल्पना भी न की होगी. ये तस्वीरें नई दिल्ली रेलवे स्टेशन का भविष्य दिखा रही हैं, क्योंकि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन चार सालों के बाद ठीक ऐसा ही दिखेगा.

2/5

प्रक्रिया की शुरुआत

प्रक्रिया की शुरुआत

नई दिल्ली रेलवे स्टेशन को विश्वस्तरीय सुविधाओं से लैस करने की जिम्मेदारी भारतीय रेलवे उपक्रम RLDA यानी रेल लैंड डिवेलपमेंट अथॉरिटी और IRSDC यानि इंडियन रेलवे स्टेशन डिवेलपमेंट कारपोरेशन पर है. इस बीच स्टेशन के री डिवेलपमेंट की ज़िम्मेदारी किसे सौपनी है, इस प्रक्रिया की शुरुआत हो चुकी है. अथॉरिटी ने बिडिंग प्रक्रिया के जरिये प्राइवेट प्लेयर को चुनने का फैसला किया है.

LCA Tejas Mark 1A : Indian Air Force का शक्तिमान, दुश्मनों का करेगा काम-तमाम

3/5

दिल्ली के केंद्र में स्थित है स्टेशन

दिल्ली के केंद्र में स्थित है स्टेशन

प्रोजेक्ट के लिए प्री-बिड मीटिंग सितंबर 2020 में आयोजित की गई थी जिसमें अडानी, जीएमआर, जेकेबी इन्फ्रा, अरबियन कंस्ट्रक्शन कंपनी और एंकोरेज इंफ्रास्ट्रक्चर सरीखे फर्मों ने हिस्सा लिया था. स्टेशन रणनीतिक रूप से दिल्ली के केंद्र में स्थित है, और दिल्ली के प्रमुख कमर्शियल स्पॉट केंद्र कनॉट प्लेस के काफी निकट है. यह एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन मेट्रो के द्वारा आईजीआई हवाई अड्डे से और येलो लाइन मेट्रो के द्वारा दिल्ली-एनसीआर से जुड़ा हुआ है. स्टेशन के दोनों ओर से परिवहन के विभिन्न साधनों से जुड़ा हुआ है. 

4/5

680 मिलियन अमरीकी डॉलर की लागत

680 मिलियन अमरीकी डॉलर की लागत

नई दिल्ली रेलवे स्टेशन को अत्याधुनिक बनाने वाले इस प्रोजेक्ट को 60 वर्षों के कन्सेशन पीरियड के लिए डिजाइन-बिल्ड फाइनेंस ऑपरेट ट्रांसफर (डीबीएफ़ओटी) मॉडल पर विकसित किया जाएगा. इसमें करीब 680 मिलियन अमरीकी डॉलर की लागत आएगी. इस प्रोजेक्ट को लगभग चार वर्षों में पूरा किया जाना है. 

5/5

नए मास्टर प्लान का एरिया लगभग 120 हेक्टेयर

नए मास्टर प्लान का एरिया लगभग 120 हेक्टेयर

नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के नए मास्टर प्लान का एरिया लगभग 120 हेक्टेयर का है, जिसमें से 88 हेक्टेयर को पहले चरण में विकसित किया जाना है. इसे दो हिस्सों में बांटा गया है. पहला स्टेशन का अंदरुनी हिस्सा और दूसरा स्टेशन एस्टेट के तहत होटल, कार्यालय, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, पार्किंग जैसी सुविधाएं होंगी.

LCA Tejas Mark 1A : Indian Air Force का शक्तिमान, दुश्मनों का करेगा काम-तमाम